Walnut Benefit in hindi | अखरोट के बारे मे पूरी जानकारी 2023

Akhrot: कई बार ऐसा होता है कि हम कुछ ऐसी चीजों का सेवन करते हैं जिससे कि उससे हमें ना तो कोई फायदा होता है और ना ही नुकसान देखने को मिलता है और कई बार किसी चीज को बिना किसी समय के ही खा लेते हैं कहा जाता है कि किसी भी चीज को खाने का एक सही समय होता है और यह समय हमारे शरीर को तंदुरुस्त बनाने में सहायता करता है। जब बात आती है शरीर को तंदुरुस्त बनाने की तब लोग ड्रायफ्रूट्स को अक्सर याद करते ही है जैसे – अंजीर, किशमिश, बादाम, मखाना आदि। 

Content of table show
Walnut Benefit in hindi | अखरोट के बारे मे पूरी जानकारी 2023

 

क्यूकी इनमे कई पोषक तत्व पाये जाते है और खाने मे भी स्वादिष्ट होते है एसे ही एक फल के बारे मे आज हम इस पोस्ट में जानेंगे जिसका नाम है Akhrot. अखरोट के बारे मे हम यहा विस्तार से सभी जानकारी देने वाले है जैसे- Akhrot ke fayde, इसके पोषक तत्व, कब खाना चाहिए, कैसे खाना चाहिए और भी बहुत कुछ

Akhrot kya hai | Walnut in hindi

Akhrot एक ऐसा ड्राई फ्रूट है जिसे ड्राई फ्रूट का राजा कहा जाता है यह ना सिर्फ खाने में फायदेमंद होता है बल्कि akhrot कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है। अखरोट दिमाग की नसों को तेज करने में सहायक होता है यह सिर्फ दिमाग के लिए ही नहीं बल्कि पूरे शरीर की हेल्थ के लिए बहुत फायदेमंद होता है पाचन तंत्र को भी मजबूत बनाने में फायदेमंद होता है।

इसे खाने से रोजमर्रा की समस्याएं दूर हो जाती हैं जैसे- पढ़ाई में ध्यान लगाना, शरीर को तंदुरुस्त रखना, शरीर की इम्युनिटी बढ़ाना, पेट के अम्ल को संतुलित रखना इत्यादि।  इस पोस्ट में आप ना केवल Akhrot khane ke fayde के बारे में जानेंगे बल्कि अखरोट खाने का सही तरीका क्या है इसके बारे में भी जानेंगे। 

अखरोट का अन्य भाषाओं में नाम

अखरोट को अलग-अलग क्षेत्रों में अलग-अलग नाम से जाना जाता है आइए जानते हैं अखरोट को अन्य भाषाओं में किस-किस नाम से जाना जाता है-

भाषा  नाम 
अखरोट का वैज्ञानिक नाम juglans regia (जुगलांस रेजिया)
हिन्दी  अखरोट
अँग्रेजी  walnut (वॉलनट) , walnut tree
संस्कृत  अक्षोट, अक्षोड
मराठी  अखरोड, अक्रोड
तेलगु  अक्षोलमु
गुजराती  अखोड अखरोड
बंगाली  आखरोट, आक्रोट, आकोट
अरबी  जौज
फारसी गौज, चारमग्न, गिर्दगा

Akhrot Tree | अखरोट का पेड़

अखरोट के पेड़ की मुख्य रूप से दो प्रकार की प्रजातियों मे पाये जाते है। 

akhrot tree
image source – pixabay.com

पहला जंगली अखरोट – जो जंगल मे पाये जाते है और दूसरा जिनकी खेती की जाती है। जो जंगल मे पाये जाते है उन्हे जंगली अखरोट कहा जाता है यह जंगल मे अपने आप ही तैयार हो जाते है इनकी उचाई लगभग 100 से 200 फीट तक होती है इस पेड़ के छिलके काफी मोटे होते है।

दूसरे कृषक अखरोट – यह वह अखरोट है जिन अखरोट की खेती की जाती है उनके पेड़ की उचाई लगभग 40 से 90 फीट के होते है और इन पेड़ो के छिलके पतले होते है इसलिए कई जगहो पर इन्हे कागजी अखरोट भी कहा जाता है। अखरोट के पेड़ पतझड़ वाले पेड़ होते है और हवा चलने पर इनसे बहुत ही मनमोहक सुगंध आती है। 

Akhrot की शाखाओं का बाहरी भाग मखमली व धूल के जैसे रंग का और दरारे पड़ी हुई रहती हैं, इनके जो पत्तिया होती है उनकी लंबाई 3 से 6 इंच तक होती है और चौड़ाई 2 से 4 इंच तक होती है। यह अंडाकार, आयताकार होता है अखरोट का फूल एक लिंगी होता है और इसका फल गोलाकार होता है फल से बहुत ही सुगंधित खुशबू आती है। 

इसकी गुठली एक से डेढ़ इंच लंबी होती है। इसकी गुठली की बनावट मनुष्य के मस्तिष्क जैसा दिखाई देता है और यह दो भागों में बटा रहता है। इसके गिरी में बहुत ज्यादा तेल पाया जाता है अखरोट के पेड़ में बसंत ऋतु के समय फूल आते हैं और शरद ऋतु में इसमें फल लगने लगते हैं।

इन्हे भी पढे –

Avocado in Hindi | एवोकाडो क्या है? इसे खाने के फायदे और नुकसान

Ice Apple benefits, side effects in Hindi | ताड़गोला के फायदे व नुकसान

Akhrot oil | अखरोट का तेल 

Akhrot नट के साथ अखरोट का तेल भी स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद माना जाता है। अखरोट के तेल से कई फायदे है जो शरीर के साथ-साथ त्वचा और बालों को स्वस्थ बनाए रखने सहायक होते है अखरोट के तेल का उपयोग स्वास्थ्य के लिए कई अलग-अलग तरह से लाभदायक हो सकते  है।

akhrot oil
image source pixabay.com – akhrot oil

इस तेल पर ऐसे कई शोध हुए हैं, जिनकी वजह से यह कहा जा सकता है कि इसका उपयोग सेहत के साथ त्वचा और बालों के लिए भी फायदेमंद है। अखरोट के तेल की 100 ग्राम की मात्रा में लगभग 3699 किलोजौल ऊर्जा पाई जाती है, जिसकी वजह से यह शरीर में ऊर्जा बढ़ाने और बनाए रखने में मदद करता है। 

Akhrot oil के कई फायदे है इसका उपयोग जैसे – झुर्रिया, झाइयाँ, जोड़ो के दर्द इसके साथ बालो के लिए भी अखरोट का तेल बहुत फायदेमंद है इससे बालो की ड्रायनेस, रूसी की समस्या, बालो की मजबूती  बनाने मे और बाल झड़ना भी कम करता है।     

अखरोट का औषधीय प्रयोग

मस्तिष्क दुर्बलता के लिए अखरोट का प्रयोग 

मस्तिष्क की दुर्बलता को दूर करने के लिए Akhrot की गिरी को 25 से 50 ग्राम की मात्रा में हर दिन खाने से दिमाग की दुर्बलता जल्द ही समाप्त हो जाती है और दिमाग तेज हो जाता है। 

आंखों की ज्योति के लिए अखरोट का प्रयोग 

आंखों की ज्योति बढ़ाने के लिए भी Akhrot का उपयोग औषधि के रूप में किया जाता है इसके लिए दो अखरोट (kernels walnut) और तीन हरड (हर्रा) की गुठली को जलाकर उसकी राख बना करके और इसमें चार कालीमिर्च को पीसकर रख ले और इसको आंखों में काजल की तरह (आँजने) लगाने पर आंखों की ज्योति बढ़ जाती है। 

दाँतो की सुरक्षा के लिए अखरोट का प्रयोग 

दांत को स्वच्छ और मजबूत बनाने के लिए भी Akhrot का उपयोग किया जाता है इसके लिए अखरोट की छाल को मुंह में रखकर चबाने से दांत साफ हो जाते हैं और अखरोट के छिलके की राख बना करके इसका मंजन करने से दांत मजबूत हो जाते हैं। 

आंतों की सुरक्षा के लिए अखरोट का प्रयोग 

आंतों के कीड़े मारने के लिए अखरोट की छाल और पत्तों का उपयोग किया जाता है इसके लिए अखरोट की छाल से काढ़ा बनाकर 60 से 80 ग्राम तक पिलाने से आंत का कीड़ा मर जाता है इसी तरह अखरोट की पत्तियों का काढा बनाकर 40 से 60 ग्राम तक की मात्रा में पीने से भी आंतों के कीड़े मर जाते हैं। 

धात रोग (सफ़ेद पानी) के लिए अखरोट का प्रयोग 

धात (धातु) रोग से पीड़ित लोगों के लिए भी Akhrot की फलों का छिलका बहुत फायदेमंद होता है धातु रोग या वीर्यस्राव को रोकने के लिए फलों के छिलके को जलाकर राख बना ले और जितनी मात्रा मे राख है इसमें उतनी ही मात्रा में खांड मिलाकर लगभग 10 ग्राम पानी के साथ लगातार 10 दिनों तक हर सुबह – शाम सेवन करने से धातुस्राव या वीर्यस्राव बंद हो जाता है। 

वात रोग (गठिया) के लिए अखरोट का प्रयोग 

वात रोग को ठीक करने के लिए भी Akhrot की गिरी को औषधि के रूप में उपयोग किया जा सकता है इसके लिए अखरोट की ताजा गिरी को पीसकर दर्द वाले जगह पर लगा कर सिकाई करने से बहुत जल्द ही आराम मिल जाता है और गठिया से पीड़ित होने पर इसकी गिरी को नियमित रूप से सेवन करने से रक्त शुद्ध होता है और गठिया रोग से आराम मिलता है। 

दाद के लिए अखरोट का प्रयोग 

दाद को भी ठीक करने के लिए अखरोट की गिरी बहुत फायदेमंद होती है इसके लिए अखरोट की गिरी को मुंह में डालकर अच्छी तरह से चबाकर दाद वाले जगह पर लगा ले ऐसा करने से कुछ ही दिनों में दाद पूरी तरह से खत्म हो जाता है।

अखरोट में पाए जाने वाले पोषक तत्व

Akhrot को एक भरपूर पोषक तत्व माना जाता है इसे प्रतिदिन खाने से हमारे शरीर में हेल्दी फैट, फाइबर, विटामिंस और मिनरल्स तत्व की कमी को पूरा किया जा सकता है अखरोट ना केवल शरीर और दिमाग को तंदुरुस्त रखता है बल्कि इसे खाने से याददाश्त भी तेज हो जाती है अखरोट एक ऐसा फल है जो सेहत के लिए सबसे अच्छा माना जाता है इसमें कई प्रकार के पोषक तत्व मौजूद होते है जिससे Akhrot khane ke fayde कई गुना बढ़ जाते है चलिये जानते है अखरोट मे पाये जाने वाले पोषण तत्वो के बारे मे जो इस प्रकार है – 

walnut
image source pexels.com – walnut
  • प्रोटीन 
  • कैल्शियम 
  • मैग्नीशियम 
  • फाइबर
  • विटामिन 
  • आयरन 
  • फास्फोरस 
  • कॉपर 
  • सेलेनियम 
  • ओमेगा 3 
  • फैटी एसिड इत्यादि 

यह सभी तत्व दिमाग को तेज करने में सहायक होते हैं इसलिए इनका सेवन प्रतिदिन सुबह-शाम करना चाहिए। 

इन्हे भी पढे –

Kishmish Khane Ke Fayde | किशमिश खाने के फायदे

kamjori ke lakshan | कमजोरी के कारण, लक्षण व उपाय

भीगे हुए अखरोट खाने के फायदे | Akhrot khane ke fayde 

भीगे हुए अखरोट खाने से Akhrot khane ke fayde कई गुना बढ़ जाते है जिससे शरीर की कई प्रकार की समस्याओं को दूर किया जा सकता है जैसे-

  • ब्लड शुगर कंट्रोल करने में सहायक
  • बॉडी से एस्ट्रा फैट कम करने में सहायक
  • पाचन तंत्र को मजबूत बनाता है
  • वजन कंट्रोल में रहता है
  • इसका सेवन करने से नींद अच्छी आती है
  • इम्यूनिटी बढ़ाता है
  • कब्ज की समस्या से छुटकारा दिलाता है
  • डायबिटीज मरीजों के लिए लाभदायक है

खाली पेट अखरोट खाने के फायदे

स्वास्थ्य सलाहकारो के शोध के अनुसार ऐसा कहा जाता है कि अखरोट को सुबह खाली पेट खाना चाहिए अखरोट को रात भर के लिए पानी में भिगोकर रखना चाहिए और सुबह खाली पेट इसका सेवन करना चाहिए पानी में भिगोने से इसके पोषक तत्व में और ज्यादा वृद्धि हो जाती है Akhrot को ड्राई फ्रूट्स का राजा कहा जाता है इसे खाने से ना केवल सेहत और दिमाग तेज होता है बल्कि यह ओवर ऑल हेल्थ को भी बढ़ाता है। 

akhrot nut
image source pexels.com – akhrot nut

जो लोग प्रतिदिन योग-आसान करते हैं या फिर किसी तरह की डाइटिंग करते हैं उन लोगों के लिए यह बहुत ही फायदेमंद है अखरोट में भरपूर मात्रा में पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो हमें कई बीमारियों से बचाए रखने में मदद करते हैं खाली पेट Akhrot खाना महिला और पुरुष दोनों के लिए बहुत फायदेमंद होता है अखरोट सभी उम्र के लोगों के लिए एक समान फायदा पहुंचाता है इसे बच्चे, बूढ़े, जवान सभी लोग सेवन कर सकते हैं। 

1 दिन में कितना अखरोट खाना चाहिए

1 दिन में 1 से 2 अखरोट खाना पर्याप्त है जो सेहत के लिए फायदेमंद होता है अगर आपका इम्यूनिटी या डाइजेशन कमजोर है तब आप 1 दिन में केवल एक ही अखरोट का सेवन करें अखरोट को खाने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि इसे रात भर के लिए भिगोकर रख दें भीगा हुआ अखरोट या अन्य ड्राई फ्रूट्स शरीर में संपूर्ण कोलेस्ट्रॉल लेवल को कम करने में सहायक होता है। प्रेग्नेंट महिलाओं को भी भीगा हुआ अखरोट खाना चाहिए सुबह के समय अखरोट का सेवन करने से थकान दूर हो जाती है और ब्लड प्रेशर का लेवल नियंत्रित रहता है।

Akhrot khane ke fayde | Akhrot benefits

डायबिटीज में फायदेमंद

डायबिटीज और ब्लड शुगर से बचने के लिए भीगे हुए अखरोट का सेवन बहुत फायदेमंद हो सकता है 1 दिन में एक से दो अखरोट का सेवन किया जा सकता है इससे type 2  डायबिटीज होने का खतरा कम हो जाता है अखरोट का सेवन करने से ब्लड शुगर का लेवल कंट्रोल में रहता है जिससे डायबिटीज का खतरा कम हो जाता है। 

पोषक तत्वों का अवशोषण

अगर आप प्रतिदिन सुबह खाली पेट भीगा हुआ Akhrot का सेवन करते हैं तो यह ना केवल आपके शरीर को तंदुरुस्त करता है बल्कि मौजूद विटामिंस और मिनरल्स की क्षमता को भी पूरा करता है अखरोट खाने से शरीर के सभी मौजूदा तत्व आसानी से मिल जाते हैं। 

प्रेग्नेंट महिलाओं के लिए फायदेमंद

गर्भावस्था के समय अखरोट खाना बहुत फायदेमंद होता है अखरोट में पाया जाने वाला ओमेगा 3, फैटी एसिड गर्भ में पल रहे बच्चे के दिमाग को विकसित करने में सहायता करता है हालांकि अपने मन से प्रेगनेंसी के दौरान किसी भी चीज का सेवन नहीं करना चाहिए डॉक्टर की सलाह के बाद ही सही मात्रा में अखरोट का सेवन करें इससे मां और होने वाले बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद हो सकता है। 

कब्ज ठीक करने में सहायक

अखरोट खाने से कब्ज जैसी समस्या से भी छुटकारा पाया जा सकता है इसके लिए अखरोट को रात में भिगोकर रख दें और सुबह इसका सेवन खाली पेट करें इससे ना केवल आपकी कब्जे ठीक होगा बल्कि जरूरी और आवश्यक पोषक तत्व जैसे फाइबर भी प्राप्त होगा फाइबर हमारे भोजन को पचाने में बहुत सहायक होता है इससे मल नरम बनता है जिससे मल त्यागने में आसानी होती है पेट साफ करने और कब्ज से बचने के लिए फाइबर युक्त चीजों का सेवन करना चाहिए। 

कैंसर के खतरे को करता है कम

अखरोट का सेवन करने से ब्रेस्ट कैंसर, प्रोस्टेट कैंसर और कोलोरेक्टल कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों के खतरे को कम किया जा सकता है अखरोट में पॉलीफेनॉल इलागीटेनिंस गुण पाया जाता है जो कई प्रकार के कैंसर से सुरक्षा प्रदान करने में सहायता करता है इसके साथ ही अखरोट खाने से हार्मोन से जुड़े कैंसर का खतरा भी कम हो जाता है अखरोट में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स शरीर में कैंसर सेल्स के विकास को रोकने में सहायक होता है। 

पुरुषों के लिए फायदेमंद

Akhrot का सेवन करना पुरुषों की सेहत के लिए बहुत फायदेमंद माना गया है इसमें ऐसे गुण पाए जाते हैं जो स्पर्म क्वालिटी में सुधार करता है इसे डाइट में शामिल करने से स्पर्म में शुक्राणु की आयु, शुक्राणुओं की संख्या, गतिशीलता में सुधार होता है बेहतर वैवाहिक जीवन के लिए पुरुषों को रात में सोने से पहले दूध के साथ अखरोट का सेवन करना चाहिए इसके सेवन से पुरुषों की नपुंसकता दूर हो जाती है और यह यौन स्वास्थ्य में सुधार करने के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है। 

नींद अच्छी आती है

आज के समय में लोग अपने काम के प्रति इतना चिंतित रहते हैं कि अच्छी तरह से नींद नहीं ले पाते हैं जिसके कारण अनिद्रा जैसी समस्या उत्पन्न हो जाती है तनाव, चिंता और अवसाद तीनों ही हमारी नींद को केंद्रित करते हैं अखरोट खाने से तनाव दूर हो जाता है और इसके साथ ही नींद भी अच्छी आने लगती है अखरोट में मेलाटोनिन होता है जो अच्छी नींद लाने में मदद करता है।  ओमेगा 3, फैटी एसिड ब्लड शुगर को संतुलित करता है जिससे तनाव से राहत मिलती है। 

इम्यूनिटी में विकास 

Akhrot में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स मौजूद होता है जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में सहायता करता है खाली पेट अखरोट खाने से हमारा शरीर रोगमुक्त रहता है खाली पेट अखरोट खाने से हमारा शरीर अखरोट में मौजूद सभी मिनरल्स और जरूरी पोषक तत्वों को ग्रहण कर लेता है जिससे हमारे शरीर मे बीमारियों से लड़ने की क्षमता अर्थात इम्यूनिटी बढ़ जाती है और याददाश्त भी तेज हो जाता है। 

हृदय को स्वस्थ रखने में सहायक

हृदय को स्वस्थ रखना अखरोट खाने के फायदे में से एक है अखरोट में मोनोअनसैचुरेटेड और पॉलीअनसैचुरेटेड फैक्ट्स पाए जाते हैं जो दिल के लिए बहुत अच्छे माने जाते हैं स्वास्थ्य ह्रदय के लिए कोलेस्ट्रॉल और वसा का नियंत्रण होना आवश्यक होता है यह खराब कोलेस्ट्रॉल को दूर करके अच्छा कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है। 

यह अच्छे कोलेस्ट्रॉल दिल को जोड़ने वाली नसों को मजबूत बनाता है और शरीर को दिल से जुड़ी हुई बीमारियों से दूर रखता है अखरोट का सेवन करने से स्ट्रोक और हार्ट अटैक जैसी गंभीर बीमारियों से बचा जा सकता है। 

हड्डियों और दांतों को मजबूत रखने में सहायक

मौसम में परिवर्तन होने के साथ ही कुछ लोगों में हड्डियों का दर्द होने लगता है या फिर दांत दर्द करने लगता है ऐसे में Akhrot फैटी एसिड और मैग्नीशियम का अच्छा स्रोत होने के कारण हमारी हड्डियों और दातों को मजबूत बनाए रखता है। 

वजन कम करने में सहायक

Akhrot वजन कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है यह शरीर के मेटाबॉलिज्म को बढ़ाता है और शरीर से एक्स्ट्रा फैट को कम करने में सहायता करता है इसमें पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन व कैलोरी होती है जो वजन को नियंत्रित रखने में सहायक होती है और मोटापा कम करता है।  

मस्तिष्क की नसों को उत्तेजित करना

अखरोट दिमाग को तेज करने वाला एक अच्छा ड्राई फ्रूट है इसका ऊपरी हिस्सा मनुष्य के दिमाग की तरह ही होता है यह मनुष्य के दिमाग को तेज करने में सहायक होता है अखरोट में पाए जाने वाले फैट ऑक्सीडेंट्स स्ट्रेस को कम करता है और दिमाग की नसों को संतुलित बनाए रखता है छोटे बच्चों को अखरोट का सेवन जरूर करना चाहिए इससे दिमाग तेज और एक्टिव होगा। अल्जाइमर से जूझ रहे लोगों के लिए भी Akhrot बहुत फायदेमंद होता है। 

पुछे आने वाले प्रश्न 

प्रश्न 1. अखरोट खाने से क्या फायदे होते हैं?

अखरोट में भरपूर मात्रा में पोषक तत्व मौजूद होते हैं जो हमें कई बीमारियों से बचाए रखने में मदद करते हैं। अखरोट सभी उम्र के लोगों के लिए एक समान फायदा पहुंचाता है इसे बच्चे, बूढ़े, जवान सभी लोग सेवन कर सकते हैं। 

प्रश्न 2. 1 दिन में कितने अखरोट खा सकते हैं?

1 दिन में 1 से 2 अखरोट खाना पर्याप्त है जो सेहत के लिए फायदेमंद होता है अगर आपका इम्यूनिटी या डाइजेशन कमजोर है तब आप 1 दिन में केवल एक ही अखरोट का सेवन करें

प्रश्न 3. क्या अखरोट के साइड इफेक्ट होते हैं?

अखरोट एक तैलीय ड्रायफ्रूट है जिसका अधिक सेवन करने से त्वचा मे रेशेस होने की संभावना हो जाती है। अगर आप किसी भी प्रकार के त्वचा संबंधी बीमारी से परेशान है तब उस स्थिति मे अखरोट का सेवन करने से बचना चाहिए।

प्रश्न 4. अखरोट में कौन कौन से विटामिन पाए जाते हैं?

अखरोट में विटामिन B, विटामिन B2, विटामिन K, विटामिन C पाया जाता है इसके अलावा और भी पोषक तत्व इसमे मौजूद होते है जैसे- प्रोटीन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, फाइबर, आयरन, फास्फोरस,
कॉपर, सेलेनियम, ओमेगा 3, फैटी एसिड इत्यादि।

प्रश्न 5. भारत में अखरोट के पेड़ कहां उगते हैं?

अखरोट की खेती भारत में मुख्य रूप से पहाड़ी क्षेत्रों में की जाती है। वर्तमान में अखरोट की खेती जम्मू-कश्मीर, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश, उत्तरांचल और अरुणाचल प्रदेश में होती है।

प्रश्न 6. अखरोट का पेड़ कितने दिन में फल देता है?

अखरोट के पौधे को पूरी तरह से विकसित होने में 7 से 8 महीने का समय लग जाता है। यह 4 साल बाद फल देना शुरू कर देते हैं और लगभग 25 से 30 साल तक उत्पादन देते रहते हैं। अखरोट के फलों की जब ऊपरी छाल फटने लगती है तब इसे तोड़ना शुरू कर देना चाहिए।

निष्कर्ष 

इस पोस्ट में akhrot के बारे में पूरी जानकारी विस्तार पूर्वक बताया गया है जिसमें अखरोट क्या है? अखरोट को अन्य दूसरे भाषणों में किस नाम से जाना जाता है, अखरोट का पेड़ कैसा होता है, जिसमें फल और फूल कब लगते हैं, अखरोट का औषधीय उपयोग क्या है, अखरोट में कौन कौन से पोषक तत्व पाए जाते हैं, अखरोट खाली पेट खाने के क्या फायदे हैं, और भीगे हुए अखरोट खाने के फायदे क्या होते हैं, अखरोट कितना खाना चाहिए।

हमें उम्मीद है कि इस पोस्ट को आपने जरूर पूरा पढ़ा होगा और आपको अखरोट से जुड़ी हुई सभी जानकारियां अच्छी तरह से समझ में आ गया होगा और यह आपको जरूर पसंद आया होगा। akhrot की यह पोस्ट आपको कैसी लगी कमेंट करके जरूर बताएं और ऐसे ही जानकारियां पाते रहने के लिए सब्सक्राइब करना ना भूलें और ज्यादा से ज्यादा लोगों तक सोशल मीडिया के माध्यम से शेयर जरूर करें।

धन्यवाद!

Share us friends

Leave a Comment

error: Content is protected !!