Ethical hacking course & degree in hindi [full information]

Google News Follow

आज के समय मे हर कोई इंटरनेट से जुड़ा हुआ है और ऐसे मे जिस तेजी से साइबर क्राइम आजकल बढ़ते जा रहे हैं हर बिजनेस ऑर्गेनाइजेशन और गवर्नमेंट एजेंसी को Ethical hacking के लिए एथिकल हैकर की जरूरत पड़ने लगी है! अब बहुत से ऑर्गनाइजेशन को यह भी समझ में आ गया है कि अपने सिस्टम और डाटा को प्रोटेक्ट करने के लिए एथिकल हैकर की जरूरत होगी ही! और वैसे भी साइबर अटैक का कोई फिक्स पैटर्न और टाइप नहीं होता है।

Ethical hacking course & degree in hindi [full information]

 

जिसे आसानी से पहचाना जा सके बल्कि! इसके तो कई सारे टाइप्स होते हैं जैसे- Malware, fishing, SQL  injection attack,  cross site scripting और  botnets तो ऐसे में Situation काफी टफ हो जाती है और यह तो हम सभी को पता है कि कोई भी सिस्टम, प्रोसेस, वेबसाइट और डिवाइसेज हैक की जा सकती है। 

इसलिए अब एथिकल हैकर की डिमांड तेजी से बढ़ती जा रही है ऐसे में अगर आप भी इस तरह के स्किल्स में इनट्रेस्ट रखते हैं और इसमे अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो एथिकल हैकर की पोजीशन आपके लिए परफेक्ट रहेगी और एथिकल हैकर कैसे बना जा सकता है क्या और कहां इसके कोर्स होते हैं यह सभी जानकारी यहां आपको दी जाएगी।

Cyber Security क्या है | Importance of Cyber Security in Hindi

Ethical hacking kya hai 

Ethical hacking इंफॉर्मेशन सिक्योरिटी की एक प्रोएक्टिव फॉम है! इसे  Penetration testing भी कहा जाता है! बिजनेसेस और ऑर्गेनाइजेशंस अपने नेटवर्कस, एप्लीकेशंस और अदर कंप्यूटर सिस्टम्स को इंप्रूव करने के लिए एथिकल हैकर को हायर करते हैं! ताकि उनका डाटा चोरी ना हो सके! और ना ही उनके साथ कोई फ्रॉड हो, एथिकल हैकिंग साइबर आतंक से फाइट करते हैं और हैकर्स के खिलाफ कडे एक्शन लेने में हेल्प करती है। 

एथिकल हैकिंग का मतलब होता है कंप्यूटर या सिस्टम को परमिशन लेकर हैक करना, ऐसा करके कंप्यूटर सिस्टम में मौजूद Vulnerabilities (कमजोरी) का पता लगाया जाता है! और इसके लिए सॉफ्टवेर कंपनिया ऐसे एक्सपर्ट एथिकल हैकर्स को हायर करते हैं जो उनके सिस्टम या सर्वर को हैक करते हैं! और उसमें मौजूद Vulnerabilities और वीक पॉइंट का पता लगाते हैं ताकि उन्हें फिक्स किया जा सके।

ऐसा करने के पीछे सॉफ्टवेयर कंपनियो का मकसद अपने सिस्टम और इंफॉर्मेशन को अनएथिकल हैकर से प्रोटेक्ट करना होता है! और अपने सिस्टम को इतना स्ट्रांग बना लेना होता है ताकि! ब्लैक हैट हैकर सिस्टम को हैक ही ना कर पाए। 

सबसे पहले हैकिंग शब्द 1960 के दौर में सामने आया था उस जमाने में हैकिंग को उन लोगों के लिए कंप्लीमेंट समझा गया जो कंप्यूटर प्रोग्राम में exceptional skills रखते थे लेकिन टाइम के साथ इस तकनीक का इस्तेमाल  अनएथिकल कामो में बढ़ने लगा जिसके वजह से यह शब्द ही नेगेटिव साउंड करने लग गया है और वैसे भी इसकी टर्म फेमस तब होने लगी जब 1970 मे US गवर्नमेंट ने अपने कंप्यूटर सिस्टम को हैक करवाने के लिए रेड टीम को यूज किया। 

यह भी पढ़े –

Information Communication Technology in Hindi | ICT |  सूचना संचार प्रौद्योगिकी

Satellite kya hai | सैटेलाइट कैसे काम करता है

Web browser kya hai यह कैसे काम करता है? पूरी जानकारी

Ethical hacking type | एथिकल हैकिंग के प्रकार

एथिकल हैकिंग के कई प्रकार होते हैं जो हैं-

  • Web application hacking
  • System hacking
  • Web server hacking
  • Hacking wireless networks
  • Social engineering

एथिकल हैकिंग एक प्रोसेस में पूरी होती है जिसमें 6 स्टेप आते हैं-

  1. Reconnaissance
  2. Scanning
  3. Gaining access
  4. Maintaining access
  5. Clearing tracks
  6. Reporting

Ethical hacking के दौरान भी कुछ बातों का ध्यान रखा जाना जरूरी होता है जैसे कि-

  •  हैकिंग से पहले प्रॉपर अप्रूवल लिया जाए
  •  Ethical hacking के दौरान ऑर्गनाइजेशन को सभी Vulnerabilities की रिपोर्ट दी जाए
  •  उसमें कमियों को दूर करने की एडवाइज भी शामिल हो
  •  डाटा सेंसटिविटी की रिस्पेक्ट करना भी एथिकल हैकिंग में बेहद जरूरी होता है

Ethical hacking के बारे में इतना कुछ जान लेने के बाद आइए अब आगे बढ़ते हैं और हैकर के बारे में जानते हैं-

इसे भी पढ़े –

WhatsApp hack कैसे करें 2023 | WhatsApp account हैक करने का 5 तरीका

एंड्राइड क्या है? Android का इतिहास | What is Android [2023]

What is Touch Screen | टच स्क्रीन क्या है और कैसे काम करता है

There are major 3 types of hackers | एथिकल हैकिंग के प्रकार 

  1. Black hat hacker
  2. Gray hat hacker
  3. White hat hacker

 आइए अब इनके बारे में एक के बाद एक विस्तार से जानते हैं-

1. Black hat hacker

यह ऐसे पर्सन है जो गलत इरादे से किसी सिस्टम या नेटवर्क में बिना परमिशन अनऑथराइज्ड तरीके से एंट्री ले लेता है और सिस्टम सिक्योरिटी को डैमेज करता है ऐसा करने के पीछे उसका मकसद अक्सर पासवर्ड, फाइनेंसियल इंफॉर्मेशन और अदर पर्सनल डाटा चुराना होता है। 

2. Gray hat hacker

Gray hat hacker भी ब्लैक हैट हैकर्स की ही तरह सिस्टम को हैक करते हैं लेकिन उनका कोई गलत इरादा नहीं होता वो सिस्टम को हैक करके सारे Loopholes और Vulnerabilities के बारे में Intelligence agencies और law enforcement agencies को बताते हैं उनका काम अक्सर कंप्यूटर सिस्टम को हैक करके उसमें मौजूद कमियों का पता लगाना और उनके बारे में एडमिनिस्ट्रेटर को बताना होता है ताकि उन्हें तुरंत दूर किया जा सके और इन कमियों का फायदा उठाकर ब्लैक हैट हैकर सिस्टम में सेंध ना लगा सके एक Gray hat hacker डिफेक्ट्स को भी ठीक कर सकते हैं। 

3. White hat hacker

ये ऑर्गनाइजेशन के साथ मिलकर के उनके सिस्टम की सिक्योरिटी को स्ट्रांग बनाए रखते हैं इन्हीं हैकर्स को एथिकल हैकर कहा जाता है तो आइए इनके बारे में विस्तार से जानते हैं-

Ethical hacking को अंजाम देने वाले लोगों को एथिकल हैकर्स कहते हैं वो परमिशन लेकर सिस्टम को हैक करते है और उनका कोई गलत इरादा भी नहीं होता है एथिकल हैकर ऑर्गेनाइजेशंस, बिजनेसेस, मिलिट्री और गवर्नमेंट के साथ काम करते हैं और अनेक नेटवर्क के सिक्योरिटी में मौजूद कमजोर कड़ी और Vulnerabilities का पता लगाते हैं। 

यह Ethical hacking tools, टेक्निक और Methodology में Specialised होते हैं ताकि किसी Unorganised  के इनफार्मेशन सिस्टम को सिक्योर रखा जा सके इनकी मदद से ऐसे सिस्टम तैयार किया जाता है जिसमें हैकर्स सेंध नहीं लगा सकते इनकी हेल्प लेकर कंप्यूटर सिस्टम और नेटवर्क में मौजूद ओपन होल्स का पता लगाया जाता है और उन्हें क्लोज किया जाता है। 

इनका काम कंपनियो के सिक्योरिटी सिस्टम में मौजूद हर Vulnerabilities को डिस्क्लोज करना होता है ताकि उसे तुरंत फिक्स किया जा सके और ब्लैक  हैट हैकर्स उन पर अटैक ना कर सके जैसे कि  Facebook, Microsoft और  Google जैसी बड़ी कंपनियो के पास अपने व्हाइट हैट हैकर्स होते हैं। 

एक Ethical hacker के पास इन सारे सवालों के जवाब होते हैं जैसे कि- 

  •  एक अटैकर सिस्टम की कौन सी Vulnerabilities यानी कमजोरियों को देखता है।
  •  हैकर किस तरह की information तक सबसे जल्दी पहुंचना चाहता है।
  •  एक हैकर उस information के साथ क्या करता है।
  •  Vulnerabilities को फिक्स करने का बेस्ट तरीका क्या है।

एथिकल हैकर्स जिन मोस्ट कॉमन Vulnerabilities को डिस्कवर करते हैं वो हैं-

  • Injection attacks
  • sensitive data exposure
  • Broken  authentication
  • Security Misconfiguration
  • Use of components with known Vulnerabilities

Ethical hacking how to learn | एथिकल हैकिंग कैसे सीखें 

 एथिकल हैकर बनने के लिए प्रॉपर एजुकेशन और नॉलेज की जरूरत होगी इसलिए बिना सही गाइडेंस और अप्रूवल के बस ट्राय करने के लिए हैकिंग को बिल्कुल ना आजमाएं क्योंकि बिना परमिशन के किसी सिस्टम को हैक करना Illegal होता है और अनएथिकल हैकिंग ऐसे ही साइबर क्राइम के लिए गिल्टी पाये जाने वाले पर्सन को कई सालों की सजा का प्रावधान भी होता है। 

इसीलिए एथिकल हैकर बनने के प्रोसेस को पूरा फॉलो करें फिर एथिकल हैकर के तौर पर आप काम करें एथिकल हैकर बनने के लिए सबसे पहले इसके क्राइटेरिया जान लेना बेहतर होगा इसके लिए आपके पास Information technology या  computer science की  bachelor degree होनी जरूरी है जो B.SC,  B. tech, B.E.,  BCA में से कोई भी  degree हो सकती है ऐसे कैंडिडेट जिन्होंने Network security और उससे  relevant Technology में  advance diploma कर रखा हो। 

इन्हे भी जाने –

Artificial Intelligence क्या है | AI in hindi

Cloud Computing in Hindi | क्लाउड कम्प्यूटिंग क्या है ?

Internet Of Things क्या है | इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IOT) क्या है?

Ethical hacking Course

Ethical hacking को प्रोफेशनल करियर बना सकते हैं और अगर आप IT सेक्टर की बड़ी कंपनीयो में एथिकल हैकर बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपके पास  repotetive Institute के Certification होना चाहिए ताकि वहां तक पहुंचने के चांस आपके बढ़ सके और ऐसे कुछ  International certification हैं-

  • Certified ethical hacker by EC-Council
  • Certified hacking forensics investigator by EC-Council
  • GIAC Penetration tester (GPEN) by SAN and GIAC
  • Cisco’s CCNA security
  • Certified Intrusion Analyst (GCIA)

तो इन सर्टिफिकेसन के अलावा आपके पास टेक्निकल स्किल्स का होना भी जरूरी है जैसे-

  •  नेटवर्क सिक्योरिटी फील्ड में Extensive experience
  •  बहुत तरह के ऑपरेटिंग सिस्टम की वर्किंग नॉलेज
  •  Microsoft and Linux servers, Cisco network switches, Virtualization, Citrix / Microsoft Exchange latest penetration software की वर्किंग नॉलेज

Ethical hacking in India

अब इंडिया के कुछ ऐसे इंस्टीट्यूट के नाम भी आपको जान लेने चाहिए जहां से आप Ethical hacking के कोर्स कर सकते हैं और आपको बता दें कि अब इंडिया के बहुत से कॉलेज Ethical hacking कोर्स ऑफर करते हैं लेकिन उनमें से बेस्ट कॉलेज आप को चुनना होगा जैसे-

  • DOEACC/NIELIT Calicut
  • University of Madras
  • SRM University Chennai
  • International Institute of Information Technology
  • Institute of Information Security

तो यह हुई कॉलेजस की बात और एथिकल हैकर के कैरियर में कितना स्कोप है और एक एथिकल हैकर कहां-कहां काम कर सकता है आइए यह भी जान लेते हैं-

 इंडिया में Ethical hacking का स्कोप अब काफी बढ़ गया है और जिस तरीके से कंप्यूटर हैकिंग में बढ़ोतरी हुई है Government organisations, financial institutions, Famous companies skilled एथिकल हैकर को Recrude करने लगे हैं ताकि उनके इंफॉर्मेशन सेफ और सिक्योर रह सके और अब तो इंडिया में एथिकल हैकर जॉब्स की कोई सीमा भी नहीं है।

टेक्निकल हैकर्स DELL, Google, Wipro, Reliance, Infosys, IBM जैसे टॉप कंपनीयो में हाई सैलरी पैकेज पर काम कर रहे हैं इसके अलावा बहुत से कंपनी एथिकल हैकिंग सर्विसेस भी प्रोवाइड कराती है और अगर आपके पास रिक्वाइड स्किल और एजुकेशनल क्वालीफिकेशन है तो आप इनमें से किसी भी पोजीशन पर अप्लाई कर सकते हैं- 

इसे भी पढ़े –

Blockchain क्या है और कैसे काम करता है? Blockchain technology

Cryptocurrency क्या है और कैसे काम करती है? [2023 update]

बिटकॉइन क्या है | बिटकॉइन मे निवेश कैसे करे [2023 update]

Ethical hacking salary in India

वैसे जहां तक सैलरी की बात है एक freshers ethical hacking के तौर पर 5,00,000 per Annual Salary आप  expect कर सकते हैं और higher Academy qualification work experience आप को 30,00,000 per year भी दिला सकता है यानी आप अपने field के Expert बने उसके बाद सैलरी पैकेज अपने आप Increase होते चला जाएगा तो एथिकल हैकर की जॉब काफी चैलेंजिंग होती है लेकिन आपका इंट्रेस्ट और इस जॉब की हाई डिमांड आपको ऐसे चैलेंज लेने के लिए Increase कर ही देगी। 

फिर आप यह तो जानते हैं कि साइबर क्रिमिनल्स अपने काम के लिए एक्सपर्ट होते हैं ऐसे में एथिकल हैकर का उन सभी से एक कदम आगे रहना जरूरी होता है तभी तो वह इन ब्लैक  हैट हैकर के माइंड सेट को समझ सकते हैं और सिस्टम को उनकी हैकिंग से प्रोटेक्ट कर सकते हैं इसलिए हर ऑर्गेनाइजेशन एक्सपर्ट एथिकल हैकर को हायर करना पसंद करती है और एक एक्सपर्ट एथिकल हैकर बनने के लिए आपको बेस्ट कोर्स, बेस्ट सर्टिफिकेट और बेस्ट प्रैक्टिस की जरूरत होती है तभी आप Best place पर appoint हो सकेंगे इसलिए सोच समझकर कोर्स करें और अपने Skill को sharp करें।

एथिकल हैकिंग से संबन्धित पूछे जाने वाले प्रश्न

एथिकल हैकर की सैलरी कितनी होती है?

एथिकल हैकर की सैलरी की बात करे तो इंडिया मे एक freshers ethical hacking के तौर पर 5,00,000 per Annual Salary आप  expect कर सकते हैं और higher Academy qualification work experience आप को 30,00,000 per year भी दिला सकता है।

एथिकल हैकिंग की परिभाषा क्या है?

Ethical hacking इंफॉर्मेशन सिक्योरिटी की एक प्रोएक्टिव फॉम है! इसे  Penetration testing भी कहा जाता है! बिजनेसेस और ऑर्गेनाइजेशंस अपने नेटवर्कस, एप्लीकेशंस और अदर कंप्यूटर सिस्टम्स को इंप्रूव करने के लिए एथिकल हैकर को हायर करते हैं! ताकि उनका डाटा! चोरी ना हो सके! और ना ही उनके साथ! कोई फ्रॉड हो! एथिकल हैकिंग! साइबर आतंक से फाइट करते हैं! और हैकर्स के खिलाफ कडे एक्शन लेने में हेल्प करती है। 

एथिकल हैकर बनने के लिए क्या करना पड़ता है?

अगर आप IT सेक्टर की बड़ी कंपनीयो में एथिकल हैकर बनना चाहते हैं तो इसके लिए आपके पास  repotetive Institute के Certification होना चाहिए।
इसके अलावा आपके पास इन टेक्निकल स्किल्स का होना भी जरूरी है-
1.  नेटवर्क सिक्योरिटी फील्ड में Extensive experience
2. बहुत तरह के ऑपरेटिंग सिस्टम की वर्किंग नॉलेज
3. Microsoft and Linux servers, Cisco network switches, Virtualization, Citrix / Microsoft Exchange latest penetration software की वर्किंग नॉलेज

उम्मीद है आपकी एक अच्छी समझ बन गई होगी Ethical hacking को लेकर इस जानकारी को अपने परिजनों से शेयर जरूर करें, कमेंट करें और ऐसे ही जानकारी पाते रहने के लिए सबस्क्राइब करना न भूलें। 

धन्यवाद!  

Share us friends

Leave a Comment