Internet Of Things क्या है | इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IOT) क्या है?

 दोस्तों आपने Internet of things के बारे में सुना ही होगा लेकिन क्या आपको पता है कि यह क्या होता है और कैसे काम करता है अगर नहीं जानते हैं तो इस आर्टिकल से आपको Internet of things से जुड़े सारे सवालों के जवाब जरूर मिल जाएंगे Internet of things को IOT के नाम से भी जाना जाता है। इस आर्टिकल को आखिर तक जरूर पढ़ें इस आर्टिकल में पूरी कोशिश की गई है कि आपको IOT से संबंधित सारी जानकारी उपलब्ध कराई जाए तो आइए अब हम जानते हैं Internet of things के बारे में-

What Internet Of Things 

Internet of things एक ऐसी प्रणाली है जो कि Computing device, mechanical, digital machine के साथ नेटवर्क की मदद से आपस में Communicate करके किसी भी कार्य को पूरा करने की क्षमता रखती है किसी भी डिवाइस को इंटरनेट के साथ जहां इन Devices को एक दूसरे के साथ कनेक्ट करना बहुत ही बड़ा Concept है इसे ही internet-of-things कहा जाता है

Internet of things एक बहुत ही बड़ा नेटवर्क है जो कि! Multiple devices को आपस में कनेक्ट करता है आपके घर में जितने भी  devices जैसे कि!  LED TV,  Smart हाथ घड़ी, कंप्यूटर, मोबाइल यह सभी इंटरनेट और Owner के  साथ कनेक्टेड होते हैं! और यह  devices owner  का कोई भी task पूरा करने की क्षमता रखते हैं

Internet Of Things Meaning And Definition

Meaning- Internet of things जिसका सीधे मतलब निकलता है कि! जो भी डिवाइस इंटरनेट से कनेक्टेड है उसे हम बस अपने सोचते ही इस्तेमाल कर सकें। 

 Definition- Internet of things एक से ज्यादा Inter-connected वस्तुओं या डिवाइसेज का नेटवर्क है जो उनके द्वारा उपयोग किए जाने वाले तरीके और उनके आसपास के पर्यावरण के बारे में डाटा एकत्र व शेयर करते हैं”।

IOT उन उपकरणों का एक नेटवर्क है जिसमें एक ही नेटवर्क पर! अन्य उपकरणों के साथ कनेक्ट कर Data exchange  करने के लिए एक हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर होता है”।

IOT को System of system या  network of network भी कहा जाता है

 Example for Internet of things

 हम अब आपको यहां कुछ IOT के उदाहरण दे रहे हैं ताकि! आपको IOT को समझने में और भी आसानी हो पाये  तो आइए जानते हैं iot के Example –

Smart City-  किसी शहर के साथ तंत्रों जिसे इंटरनेट से कनेक्ट किया जा सके उसे आपस में जोड़कर तथा उनके बीच Data के   input  और  output से शहरी व्यवस्थाओं को एक व्यवस्थित तरीके से नियंत्रित किया जा सकता है जैसे- परिवहन तंत्र, स्ट्रीट लाइट, यातायात कंट्रोल, CCTV camera को आपस में जोड़कर सभी व्यवस्थाओं की क्षमता और उपयोगिता बढ़ाई जा सकती है एक  Smart City Internet of things की ही देन है और इसे एक अच्छे उदाहरण के तौर पर देखा जा सकता है।

Smart home-  Internet of things का प्रयोग Smart home को प्राप्त करने के लिए किया जा सकता है यह विशिष्ट तौर पर अस्पताल व होटल जैसे व्यवसायिक क्षेत्रों में अत्यंत लाभदायक हो सकता है साथ ही हमारे घर की वस्तुएं जैसे-  AC,  door lock, Smart TV, led, coffee maker यह सभी उपकरण  Smart home का उदाहरण है।

 IOT applications

 इंटरनेट ऑफ थिंग्स applications वह applications होते हैं! जिनके माध्यम से हम अपने मोबाइल से ही हर प्रकार की Internet of things device को इस्तेमाल कर सकते हैं फिर चाहे वहां हेल्थ केयर से संबंधित डिवाइस हो या फिर हमारी रोज़  मर्रा से जुड़े हुए IOT devices!  आइए हम यहां IOT  applications के कुछ उदाहरण देखते  हैं ताकि हम Internet of things applications को बेहतर समझ सके-   

1.  Remote Temperature Monitoring For Vaccines 

यह एक Healthcare app है जिसका उपयोग कर हम अपने फोन के  sensor की मदद से अपने  temperature को जांच सकते हैं। 

2. Blood Coagulation Testing

 यह भी एक  Healthcare app है जिससे रक्त परीक्षण किया जाता है।

3. EPS 8266 Home IOT Application

यह Android application रोशनी को नियंत्रित करने मे इस्तेमाल किया जाता है।

4. Unimote Universal Smart TV remote control 

यह Smart TV के लिए एक application है जिससे TV को इस application के माध्यम से इस्तेमाल किया जा सकता है।

5. Arduino IOT Cloud Remote 

यह application आपके internet of things प्रोजेक्ट (device)  को कहीं से भी नियंत्रित कर सकता हैं।

6. IOT Vehicle tracking  system 

 इस application के माध्यम से हम अपने IOT vehicle को ट्रैक कर सकते हैं।

IOT devices

 दोस्तों अब तक आप जान चुके हैं कि IOT होती क्या है और यह कैसे काम करता है आइए अब हम IOT के कुछ Devices के बारे में भी जान लेते हैं Internet of things के प्रति अपनी समझ को और बेहतर करने के लिए

1. Internet of things Coffee maker –  coffee maker मशीन तो हम सभी जानते हैं लेकिन एक IOT  coffee maker बड़े ही कमाल की चीज़ है अगर हम घर से कहीं दूर हैं और चाहते हैं कि घर पहुंचते ही आपको कॉपी मिल जाए बिना बनाए तो बस आपको इतना करना है कि अपने मोबाइल से app की मदद से IOT coffee maker मशीन में कुछ सेटिंग करनी होगी कि आपको कितनी कॉपी चाहिए कितने बजे चाहिए दूध पानी कॉपी चीनी की कितनी मात्रा होनी चाहिए बस इतना करते ही आप की  coffee ready हो जाएगी आपके सेट किए हुए समय पर।

2. Internet of things Vehicle IOT vehicle को हम अपने मोबाइल ऐप से कंट्रोल कर सकते हैं एप पर सेटिंग कर car  को पार्क कर सकते हैं और वापस अपने पास भी ला सकते हैं जिसका सबसे बेहतर उदाहरण है  Tesla car 

3. IOT  CCTV Camera –Internet of things CCTV camera एक ऐसा कैमरा है जिसे हम अपने मोबाइल कंप्यूटर से  कनेक्ट कर उस कैमरा का एक्सेस ले सकते हैं यह IOT  CCTV camera हॉस्पिटल में मरीजों की देखभाल या Traffic control करने में बहुत मददगार साबित होते हैं और इस कैमरे की मदद से हम कहीं भी बैठ के  अपने घर के सुरक्षा का ध्यान रख सकते हैं

इसे भी पढ़े –

What is Artificial Intelligence | आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्या है?

What is Cloud Computing in Hindi | Cloud Computing क्या है ?

Debit card and Credit card difference in hindi | ATM card kya hai

Bluetooth kya hai | ब्लूटूथ कैसे कार्य करता है

Internet of things Health Care

आप सभी ने देखा होगा हॉस्पिटल में लोगों की लंबी लंबी लाइन लगी होती थी और दूसरी तरफ मरीजों के उदास चेहरे नजर आते थे! लेकिन अब Internet of things जैसी  advance technology  ने   Healthcare के सिस्टम को ही बदल कर रख दिया वैसे तो! सभी फील्ड में IOT ने अपना  effect डाला है लेकिन इसका सबसे बड़ा  benefit Healthcare industry को  ही हुआ है

Internet of things की मदद से   डॉक्टर अब  मरीजो के स्वास्थ्य और सुधार की निगरानी रख सकते हैं और दूसरी और पेशेंट जो की बड़ी आसानी से अपने डॉक्टर के साथ कनेक्ट कर सकते हैं हालांकि! टेक्नोलॉजी इन बीमारियों को खत्म तो नहीं कर सकती लेकिन! फिर भी IOT की मदद से चीजों को आसान किया जा सकता है जिससे समय की भी बचत होती है! इसलिए यह कहना गलत नहीं है  Internet of things Healthcare industry के महान भविष्य को  represent किया है

IOMT –  Internet Of Medical Things

 मेडिकल उपकरणों और मोबाइल उपकरणों का सम्मेलन है जो कि!  Information को  Network से जोड़ता है वैसे तो बहुत सारे  personal fitness devices  हैं जैसे की Activity tracker,  band,  sport watch,  smart गारमेंट यह सभी डिवाइसेज हमारे वेयरनेस का ध्यान रखते हैं दोस्तों! यह था हेल्थ केयर का एक intro आइए अब हम  point to point IOMT  के बारे में जानते हैं

 Reporting And Monitoring 

Reporting और  monitoring से जुड़े उपकरणों के माध्यम से डॉक्टर के लिए पेशेंट की देखभाल करना आसान हो जाता है! इसके अलावा  real time monitoring जैसे कि- डायबिटीज अटैक, अस्थमा अटैक आदि से जान बचाई जा सकती है। 

 Connectivity  And  Affordability 

 Connectivity  And  Affordability  मे  Bluetooth,  Wi-Fi,  Z-Wap Technology,  Zigbee और  other connectivity  protocol के माध्यम से पेशेंट की बीमारियों को बड़ी ही आसानी से पहचाना जा सकता है और साथ ही साथ इसके उपचार के तरीकों को भी बदला जा सकता है।

Analysis And Assortment 

 किसी भी पेशेंट की हर तरह की इंफॉर्मेशन को स्टोर करने के लिए क्लाउड की हेल्प ली जाती है! इसके अलावा कर्मचारियों के लिए अलग-अलग उपकरणों से information प्राप्त करना काफी ज्यादा कठिन हो जाता है! ऐसी परिस्थिति में Internet of things Devices की Help से डाटा स्टोर करना और उसकी रिपोर्ट करना बहुत ही आसान हो जाता है।

Alert And Tracking

 किसी भी तरह की खतरनाक परिस्थिति में  time to time alert किया जाना बहुत ज्यादा जरूरी हो जाता है! ऐसी परिस्थिति में Internet of things devices  real Time Data को Analysis करते हैं और समय-समय पर डॉक्टर और कर्मचारियों को अलर्ट करते हैं इसके अलावा मोबाइल एप्लीकेशन और Internet of things devices किसी भी पेशेंट का Real time place पता बताने में हेल्प करते हैं

Remote Medical Assistant 

 मान लीजिए! अगर कभी ऐसी परिस्थिति आ जाए पेशेंट इमरजेंसी में हो और डॉक्टर मीलो दूर किसी दूसरी Country में हो तो! ऐसी  condition में Internet of things डिवाइसेज की हेल्प से Robotic surgery की जा सकती है। 

Research

 जब भी किसी नई बीमारी का  research की जाती है तो उसके लिए बहुत सारे   data का अध्ययन करना पड़ता है और बहुत सारा  data इकट्ठा भी करना होता है अगर इसी    data को इंसानों के द्वारा इकट्ठा किया जाए तो ना जाने कितने सालों लग जाएंगे इसीलिए Internet of things devices की हेल्प से सारे डेटा को इकट्ठा किया जाता है और उनकी हेल्प से ही Research and development process को पूरा किया जाता है। 

 Cost Reduction

Internet of things devices की हेल्प से डॉक्टर अपने पेशेंट पर किसी भी जगह से निगरानी रख सकते हैं जिसके कारण डॉक्टर के आने जाने के खर्च में कटौती आ जाती है। 

Improved Treatment 

Internet of things devices की Help से जो भी! डाटा पेशेंट से  related इकट्ठा किया जाता है उस डाटा के आधार पर! डॉक्टर और चिकित्सकों को इलाज के लिए किसी भी तरीके का डिसीजन लेने के लिए आसानी हो जाती है।

Internet of things advantages

IOT के बहुत फायदे हैं आइए हम IOT  advantages के बारे में जानते हैं

Internet of things में डिवाइस से आपस में Communicate करती हैं जिसे हम m2m (machine  to machine) कम्युनिकेशन कहते हैं इससे जो भी Data   access किया जाता है उसकी  quality बेहतर होती है क्योंकि डाटा एक डिवाइस से क्लाउड में जाता है और दूसरे डिवाइस से हम उस  data का  access लेते हैं।

जब हम अपने कंप्यूटर, मोबाइल फोन या टेबलेट को इंटरनेट से कनेक्ट करते हैं तो इंटरनेट के जरिए हम दुनिया भर के कंप्यूटर प्रिंटर और मशीन से जुड़ जाते हैं इंटरनेट की मदद से हम Online shopping कर सकते हैं,  banking transaction कर सकते हैं,  online music सुन सकते हैं और भी बहुत कुछ।  अब इंटरनेट आने के बाद आसपास मौजूद बाकी चीजों को भी इंटरनेट से जोड़ सकते हैं जैसे की कार, घड़ी, लाइट, टीवी।

 IOT की मदद से कार इंटरनेट से कनेक्ट हो जाती है तो! हम उसका Fuel metre, Speed और कार की  location को Trace कर सकते हैं! अपने मोबाइल से लाइट और सभी इलेक्ट्रिकल चीजों को कंट्रोल कर सकते हैं, रोजमर्रा की चीजों को लेना! उन में इलेक्ट्रिक सॉफ्टवेयर सेंसर को डालना और फिर उन्हें इंटरनेट के साथ कनेक्ट करना ताकि वह हमारे टाइप किए बिना डाटा कलेक्ट कर सके और रिसीव कर सके।

 IOT Devices वातावरण से  physical input को माप सकता है और इसे डाटा में Convert कर सकता है जिसे! कंप्यूटर पढ़ सके  for  example- Motion Sansar, Temperature,  Flash light, sound आदि।

Mobile ka avishkar kisne kiya | मोबाइल का आविष्कार किसने और कब किया था

इंटरनेट ऑफ थिंग्स क्या है?

Internet of things एक से ज्यादा Inter-connected वस्तुओं या डिवाइसेज का नेटवर्क है जो उनके द्वारा उपयोग किए जाने वाले तरीके और उनके आसपास के पर्यावरण के बारे में डाटा एकत्र व शेयर करते हैं”।

इंटरनेट ऑफ थिंग्स के उदाहरण क्या है?

इंटरनेट ऑफ थिंग्स के कई उदाहरण हमारे सामने है जिनको हम सभी लगभग हर दिन देखते या उपयोग भीकरते है है जैसे कि – परिवहन तंत्र, स्ट्रीट लाइट, यातायात कंट्रोल, CCTV camera, AC,  door lock, Smart TV, led, coffee maker आदि।

IOT का फुल फार्म क्या है?

IOT का फुल फार्म Internet of things (इंटरनेट ऑफ थिंग्स) होता है जिसका मतलब है जो भी डिवाइस इंटरनेट से कनेक्टेड है उसे हम बस अपने सोचते ही इस्तेमाल कर सकें।

अंत मे –

उम्मीद है की आप के मन मे iot को लेकर जो भी सवाल थे उसके जवाब मिल गए होंगे  और IOT के प्रति एक बेहतर समझ बन गई होगी आप के लिए  यह आर्टिकल helpful लगा हो  और पसंद आया है तो इसे अपने दोस्तो के साथ जरूर share करे।

  धन्यवाद !

Share us friends

Leave a Comment

error: Content is protected !!