Internet service provider | ISP क्या है और इसका काम क्या है | ISP के 3 प्रकार

आज आपको यहां Internet service provider के बारे में बताया जा रहा है जब एक कस्टमर किसी दुकान या ऑनलाइन वेबसाइट से कोई प्रोडक्ट  खरीदता है तो उसके बदले में  उस प्रोडक्ट की  कंपनी कस्टमर को जरूरत के समय सेवा प्रदान करने का वादा करती है यह सेवा किसी भी तरह की हो सकती है जैसे प्रोडक्ट के खराब होने पर उसे मरम्मत करना प्रोडक्ट को इस्तेमाल करने के लिए गाइड करना या कभी प्रोडक्ट का इस्तेमाल करते वक्त कोई दिक्कत आई तो उसे सरलता से संभालना यह सारे काम उस प्रोवाइडर का होता है।

उसी तरह जब हम इंटरनेट का इस्तेमाल करते हैं तब इंटरनेट के सर्विस प्रोवाइडर हमें अलग अलग तरह से सेवा प्रदान करते हैं। इंटरनेट के साथ जुड़े रहने के लिए हमारे पास एक Internet service provider Access होना जरूरी है जो हमें इंटरनेट प्रदान करता है! हम सभी को अपने स्मार्टफोन, कंप्यूटर में इंटरनेट चलाने के लिए किसी ना किसी नेटवर्क प्रोवाइडर की आवश्यकता होती है! जैसे कि! हमारे फोन में इंटरनेट चलाने के लिए Airtel, jio, idea आदि में से किसी एक Sim का उपयोग करते हैं।

हम जिस कंपनी के  Sim का उपयोग करके इंटरनेट चलाते हैं! वही कंपनी हमारा ISP यानी Internet service provider होता है! पूरी दुनिया में 17 तरह के सर्विस प्रोवाइडर मौजूद हैं लेकिन! हम यहां पर आपको Internet service provider के बारे में जानकारी देने वाले हैं कि! ISP क्या है? ISP कैसे काम करता है? तो आइये शुरू करते है। 

ISP Meaning 

ISP का Full form है! Internet service provider जिसे हिंदी में अंतरजाल सेवा प्रदाता भी कहा जाता है। 

Internet Service Provider Definition

ISP एक ऐसी संस्था या कंपनी को कहते हैं जो लोगों और छोटे- बड़े सभी Organisation को इंटरनेट की सुविधा देने का काम करती  हैं! चाहे हम घर पर हो, ऑफिस में हो, या सफर कर रहे हो हर बार जब आप इंटरनेट से जुड़ते हैं तब इंटरनेट के साथ आपका डिवाइस का कनेक्शन एक ISP के माध्यम से जुड़ता है। 

यह Internet service provider इंटरनेट पर उपयोगकर्ता के लिए Gateway यानी प्रवेश द्वार प्रदान करता है! ISP इंटरनेट के साथ-साथ कई अन्य सर्विस भी प्रदान करते हैं जैसे- Web Page, Hosting, domain name, registration, mail service,  file transfer इत्यादि।

What is Internet Service Provider | ISP क्या है ?

इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर्स अलग-अलग टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करके लोगों को इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध कराते हैं! modem, internet access, DSL, cable internet,  wireless broadband, Wifi Internet, Ethernet जैसे टेक्नोलॉजी का उपयोग कर लोगों तक इंटरनेट पहुंचाया जाता है! इन सभी टेक्नोलॉजी का उपयोग Internet service provider अपने उपयोगकर्ता के डिमांड के अनुसार करते हैं।

छोटे या कम एरिया के अंदर इंटरनेट की सेवा प्रदान करने के लिए Internet service provider! DSL, Cablemod,  Wi-Fi Internet की मदद लेते हैं! और जिन्हें बड़े पैमाने या बिजनेस के लिए इंटरनेट की आवश्यकता होती है ISP उन्हें इंटरनेट और Frame relay जैसे माध्यम से इंटरनेट प्रदान करते हैं! यह Internet service provider हैं जो उपयोगकर्ता को इंटरनेट इस्तेमाल करने के सक्षम बनाते हैं। 

अगर आपके पास एक कंप्यूटर है जिसके साथ Modem या Networking के लिए एक router लगा हुआ है लेकिन! अगर आपका नेटवर्क ISP के साथ कनेक्ट नहीं है तो आपके डिवाइस के साथ इंटरनेट से कनेक्शन नहीं होगा! इसीलिए किसी भी माध्यम को Internet service provider के साथ कनेक्ट होकर रहना ही होगा तभी इंटरनेट प्रदान किया जा सकता है।

किसी अन्य कंपनी की तरह ही इंटरनेट सर्विस प्रदाता अपनी सेवाओं के लिए उपयोगकर्ताओं से पैसे लेते हैं! Internet service provider उपयोगकर्ता से दो तरह का शुल्क लेती है-

  •  इंटरनेट प्रदान करने के लिए।
  •  इंटरनेट कनेक्शन देने के लिए जैसे कि Broadband.

उपयोगकर्ता को इंटरनेट कनेक्शन लेने और इंटरनेट उपयोग करने का शुल्क Internet service provider को देना पड़ता है यह शुल्क भी उपयोगकर्ता से समय अवधि, दूरी, गति और डाटा डाउनलोड या अपलोड के मात्रा के अनुसार लिया जाता है। 

Internet Service Provider Type | ISP के प्रकार 

Internet service provider 3 category में बांटा गया है! जिन्हें Tier 1, tier 2, tier 3 कहा जाता है सबसे पहले जानते हैं कि Tier 1 के बारे में –

1. Tier 1 ISP –  Tier 1 ISP अन्य ISP के तुलना में सबसे बड़ी Internet service provider कंपनी होती है जो विभिन्न देशों को इंटरनेट से जोड़ने का कार्य करती है यह कंपनियां समुद्र के अंदर सीलिंग केवल बिछाकर सभी देशों के बीच इंटरनेट प्रदान करने का कार्य करती है इंटरनेट यूजर इंटरनेट का इस्तेमाल करने का जो भुगतान भरता है उसका सबसे ज्यादा हिस्सा इस Tier 1 कंपनी को जाता है।

2. Tier 2 ISP –  Tier 2 ISP कंपनी Tier 1 की तुलना में छोटी कंपनी होती है जब Tier 1  कंपनी इंटरनेट का कनेक्शन समुद्र के जरिए देश तक लाती है तब Tier 2 कंपनी उस इंटरनेट कनेक्शन को देश के विभिन्न राज्य और शहरों तक पहुंचाने का कार्य करती है इसका मतलब है कि Tier 1  कंपनी अलग-अलग देशों तक इंटरनेट पहुंचाने का कार्य करती है और Tier 2 की कंपनी देश से राज्यों तक इंटरनेट पहुंचाने का कार्य करती है।

3. Tier 3 ISP –  Tier 3 ISP यह सबसे छोटा Internet service provider होता है! जो शहर के अंदर ब्लॉक, कॉलोनी और घरों तक इंटरनेट कनेक्शन प्रदान करने का कार्य करते हैं! Tier 3 ISP कंपनी Tier 2  ISP से कनेक्शन लेकर घरों तक इंटरनेट कनेक्शन प्रदान करती है।

इन्हे भी जाने –

Block chain Technology | ब्‍लॉकचेन क्या है और कैसे काम करता है?

Internet Of Things क्या है | इंटरनेट ऑफ थिंग्स (IOT) क्या है?

What is Cloud Computing in Hindi | Cloud Computing क्या है ?

What is Artificial Intelligence | आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्या है?

ISP काम कैसे करता है?

इंटरनेट की सबसे खास बात यह है कि इसका मालिक कोई नहीं है इंटरनेट छोटे-बड़े बहुत सारे नेटवर्क का ग्लोबल कनेक्शन है जहां पर सभी नेटवर्क किसी ना किसी तरीके से एक साथ जुड़े हुए होते हैं और यही नेटवर्क दुनियाभर के कंप्यूटर को आपस में कनेक्ट करते हैं।

सभी कंप्यूटर जो इंटरनेट से जुड़े हुए होते हैं वह इस नेटवर्क का हिस्सा बन जाते हैं! असल में इंटरनेट एक बहुत बड़ा जाल होता हैं एंट्री कनेक्टेड नेटवर्क का जिसे कंप्यूटर की भाषा में Transmission media बोला जाता है यह जाल एक वायर होता है जिसमें Information और  data दुनिया भर में घूमते रहता है। 

दुनिया के कोने-कोने तक इंटरनेट की सुविधा पहुंचाने के लिए! बहुत से High bandwidth data lines का इस्तेमाल किया जाता है! जिसे इंटरनेट का  backbone भी कहा जाता है! इन Lines को कनेक्ट किया जाता है अलग-अलग Location में मौजूद Major internet Hubs के साथ और यही Hubs डाटा को अलग-अलग Location पर  Distribute करते हैं इंटरनेट Hubs को ही ISP  कहा जाता है। 

ज्यादातर ISP एक केवल DSL या फाइबर कनेक्शन के जरिए Broadband Internet access प्रदान करते हैं! जैसे अगर घर में कंप्यूटर के साथ  router लगा हुआ है इंटरनेट की सेवा प्रदान करने के लिए तो! वह  router भी एक ISP के साथ कनेक्ट होकर ही इंटरनेट की सेवा प्रदान करता है! आप को ऑफिस में आपका कंप्यूटर कंपनी के Wi-Fi से जुड़ा हुआ होता है तब भी आपकी कंपनी का किसी ISP के साथ कनेक्ट होता है तभी इंटरनेट सेवा आपको मिल रही होती है।

उसी तरह जब आप एक पब्लिक Wi-Fi सेवा के माध्यम से इंटरनेट इस्तेमाल करते है! तब वहां भी Wi-Fi router एक ISP के साथ Connected होता है! आपको इंटरनेट प्रदान करने के लिए Cellular data server भी किसी ना किसी ISP से जुड़ा हुआ होता है।

ISP यूजर को इंटरनेट से कैसे जोड़ता है?

स्मार्टफोन में नेटवर्क के जरिए इंटरनेट प्रदान करने के लिए शुरुआत के समय में अधिकतर ISP कंपनियां  cable द्वारा लोगों तक इंटरनेट पहुंचाते हैं लेकिन अब आज के समय मे कंपनियां धीरे-धीरे वायरलेस इंटरनेट सर्विस प्रोवाइड करा रही हैं। 

ISP Wire medium के अलावा  Wireless networking system से भी इंटरनेट सेवा प्रदान करते हैं! पहले जब Cable system द्वारा लोगों को इंटरनेट सेवा प्रदान की जाती थी तो! इसके लिए नेटवर्क प्रोवाइडर कंपनी को पूरे एरिया में वायर बिछाने पड़ते थे। वायरलेस मीडियम की शुरुआत के बाद सिर्फ टावर और सेटेलाइट की मदद से लोगों तक इंटरनेट पहुंचाया जाता है।

Internet service provider की मदद से आज दुनिया के हर कोने में हर व्यक्ति तक लोगो की पहुंच बन सकी है आज टेक्नोलॉजी के आगे बढ़ने की वजह से ISP कंपनियों के बीच Competition बढ़ गया है जिसकी वजह से आम लोगों तक इंटरनेट की सेवा  पहले की अपेक्षा सस्ते दामों में मिल रही है! एक तरह से इन्हीं ISP कंपनियों ने ही पूरी दुनिया को इंटरनेट से जोड़ रखा है! जिनकी वजह से हम घर बैठे ही सारी जानकारी प्राप्त कर पाते हैं! और दूर तक रह रहे दोस्तों और परिवार वालों से जुड़ पाते हैं। 

Google ka avishkar kisne kiya | गूगल का आविष्कार कब और किसने किया

ISP क्या है Hindi?

ISP एक ऐसी संस्था या कंपनी को कहते हैं जो लोगों और छोटे- बड़े सभी Organisation को इंटरनेट की सुविधा देने का काम करती  हैं! चाहे हम घर पर हो, ऑफिस में हो, या सफर कर रहे हो हर बार जब आप इंटरनेट से जुड़ते हैं तब इंटरनेट के साथ आपका डिवाइस का कनेक्शन एक ISP के माध्यम से जुड़ता है। 

आईएसपी कितने प्रकार के होते हैं?

Internet service provider 3 category में बांटा गया है! जिन्हें Tier 1, tier 2, tier 3 कहा जाता है।
Tier 1 ISP अन्य ISP के तुलना में सबसे बड़ी Internet service provider कंपनी होती है जो विभिन्न देशों को इंटरनेट से जोड़ने का कार्य करती है यह कंपनियां समुद्र के अंदर सीलिंग केवल बिछाकर सभी देशों के बीच इंटरनेट प्रदान करने का कार्य करती है।
Tier 2 कंपनी उस इंटरनेट कनेक्शन को देश के विभिन्न राज्य और शहरों तक पहुंचाने का कार्य करती है।

इंटरनेट सेवा प्रदाता की भूमिका क्या है?

Tier 3 ISP यह सबसे छोटा Internet service provider होता है! जो शहर के अंदर ब्लॉक, कॉलोनी और घरों तक इंटरनेट कनेक्शन प्रदान करने का कार्य करते हैं।

ISP का फुल फार्म क्या होता है ?

ISP का फुल फार्म Internet service provider है ।

Conclusion

आप ने जाना कि ISP क्या है, यह कैसे काम करता है और साथ ही Internet service provider के प्रकार भी।  Internet service provider आज पूरे दुनिया भर की एक महत्वपूर्ण जरूरत बन गई है क्योंकि इंटरनेट हम आम नागरिकों की जरूरत बन चुकी है जिनकी वजह से हम घर बैठे ही सारी जानकारी प्राप्त कर पाते हैं! और दूर तक रह रहे दोस्तों और परिवार वालों से जुड़ पाते हैं।

इसी के साथ हमारे द्वारा Internet service provider की जानकारी पूरी होती है! उम्मीद है यह जानकारी ISP के प्रति आपकी एक बेहतर समझ बना पाने में सक्षम रही है! इस जानकारी को अपने परिजनों के साथ शेयर करना ना भूले। अपनी राय कमेंट करे और भी एसे आर्टिकल पढ़ने के लिए सस्क्राइब जरूर करें। 

धन्यवाद!

यह भी जाने –

happy raksha bandhan | रक्षाबंधन कब है | रक्षा बंधन 2022 जानें- तारीख, शुभ मुहूर्त

Harchat kab hai | Harchat 2022 mein kab hai | हलछठ 2022 में कब है ?

Diwali kab hai 2022 ? दीपावली कब है 2022 ? दिवाली 2022 की तारीख व मुहूर्त

Share us friends

1 thought on “Internet service provider | ISP क्या है और इसका काम क्या है | ISP के 3 प्रकार”

Leave a Comment

error: Content is protected !!