Kamal Gatta Kya Hota Hai | कमलगट्टे की माला के 7 फायदे

Kamal Gatta Kya Hota Hai – हिंदू धर्म में कमल के फूल का बहुत अधिक महत्व है कमल के फूल के बीज को kamal gatta कहा जाता है कमल के फूल के बीजों की माला बनाकर उसको पहनकर मंत्रों का जाप किया जाता है माता लक्ष्मी जी को कमल का फूल चढ़ाया जाता है क्योंकि उनको यह बहुत प्रिय होता है धार्मिक कामों को करने मे जैसे कि- पूजा पाठ, मंत्र का जाप, धार्मिक अनुष्ठानों में इसका उपयोग किया जाता है इसके अलावा kamal gatta का उपयोग खाने के लिए भी किया जाता है। 

 

kamal gatta kya hota hai

 

बहुत से ऐसे लोग हैं जो kamal gatta के बारे में नहीं जानते हैं की Kamal Gatta Kya Hota Hai ? kamal gatta का उपयोग किसमें किया जाता है? इसको कैसे खाया जाता है? इन सभी प्रश्नों का उत्तर जानने के लिए इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

Kamal gatta kya hota hai?

kamal gatta कमल का फल होता है जो कमल के फूल से बनता है यह देखने में छोटा होता है कमल के फूल को पुरैन के नाम से भी जाना जाता है यह तालाबों में पाया जाता है इसके पत्ते बड़े-बड़े होते हैं कमल गट्टा खाने पर बहुत स्वादिष्ट होता है ये हल्के मीठेपन का भी स्वाद देते है।  इस छोटे से बीज को ही कमल गट्टा कहा जाता है यह छोटा सा दिखाई देने वाले बीज मे कई पोषक तत्व होते है इसका उपयोग पूजा पाठ करने, हवन करने के साथ-साथ खाने और औषधि के रूप में भी किया जाता है। 

कमल गट्टा कैसे खाते हैं?

kamal gatta मूंगफली के बीज की तरह होता है जिसमें लगे हुए छिलके को निकाल कर खाया जाता है यह खाने में मूंगफली के दाने से भी ज्यादा स्वादिष्ट होता है kamal gatta स्वादिष्ट होने के साथ-साथ इसमें औषधि गुण भी पाया जाता है जो इसको खास बनाता है। 

kamal gatta का हलवा बनाकर खाने से यह और भी स्वादिष्ट हो जाता है यह स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होता है जो लोग डायबिटीज के मरीज हैं वह लोग बिना शक्कर के हलवा बनाकर खा सकते हैं और इसके औषधीय गुण का लाभ ले सकते हैं। 

कमल गट्टा की धार्मिक मान्यताएं

प्राचीन काल से ही kamal gatta उपयोग धार्मिक कार्यों में किया जाता रहा है माता लक्ष्मी जी को कमल का फूल चढ़ाने से धन और सुख समृद्धि की प्राप्ति होती है कमल के फूल के बीजों की माला को ही kamal gatta की माला कहा जाता है माता लक्ष्मी जी की पूजा और उनकी आराधना करने के लिए कमलगट्टे की माला को बहुत ही शुभ माना जाता है ऐसा माना जाता है कि इसकी माला को धारण करने वालों पर मां लक्ष्मी जी की कृपा सदैव बनी रहती है। 

kamal gatta phool

धन की प्राप्ति के लिए लक्ष्मी जी की पूजा के समय kamal gatta चढ़ाया जाता है अपनी तिजोरी में 6 kamal gatta पर लाल सिंदूर लगाकर रखने से मां की कृपा हमेशा बनी रहती है कमलगट्टे की माला को पहनने से माता लक्ष्मी, भगवान विष्णु और कुबेर जी की कृपा बनी रहती है और घर में सुख समृद्धि धन की प्राप्ति होती है। Kamal Gatta Kya Hota Hai अब आप अच्छी तरह से समझ गए होंगे । 

इन्हे भी जाने –

सिर्फ 1 Gulab ka phool आपका जीवन बदल सकता है जानिए कैसे

डायबिटीज से राहत दिलाये Paneer phool आज से ही करें सेवन

Ketki ka phool kaisa hota hai | जाने कैसे हुआ केतकी का फूल श्रापित

कमलगट्टा का उपयोग

 

kamal gatta phal

 

धार्मिक कार्यों में 

धार्मिक कार्यों में kamal gatta का उपयोग सबसे ज्यादा किया जाता है kamal gatta का उपयोग पूजा, पाठ, हवन, धार्मिक अनुष्ठानों में किया जाता है धार्मिक कार्यों में इसका उपयोग कमलगट्टा का माला बनाकर किया जाता है कमलगट्टे की माला का उपयोग मंत्र जाप करने में किया जाता है। 

सब्जी के रूप में

कमलगट्टे का उपयोग कई लोग सब्जी बना कर भी खाते हैं इसमें कई प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं जो सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं कमलगट्टे के तहत ही इसके जड़ की भी सब्जी बनाने में उपयोग करते हैं जो बहुत स्वादिष्ट होती है कमल के जड़ को कमल ककड़ी भी कहा जाता है पंजाब में कमल ककड़ी की सब्जी को बहुत ज्यादा पसंद किया जाता है। 

औषधि के रूप में

कमलगट्टे का उपयोग औषधि के रूप में भी किया जाता है कमलगट्टे में भरपूर मात्रा में पोषक तत्व पाया जाता है यह शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है इससे कई समस्याओं से छुटकारा पाया जा सकता है इसका उपयोग करने से डायबिटीज जैसी अन्य बीमारियों में भी बहुत फायदेमंद और लाभदायक माना गया है। 

कमलगट्टा में पोषक तत्व

कमलगट्टा में कई प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं जो शारीरिक स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होता है कमलगट्टे को सब्जी, फल आदि के रूप में इसका उपयोग किया जाता है कमलगट्टे में पाए जाने वाले पोषक तत्व इस प्रकार से हैं – कैलोरी, वसा, आयरन, कोलेस्ट्रॉल, प्रोटीन, मैग्नीशियम, पोटेशियम, बीटामिन ए, बीटामिन बी, बीटामिन सी, बीटामिन ई, सोडियम, कार्बोहाइड्रेट इत्यादि। 

कमलगट्टा के औषधीय फायदे

कमलगट्टे का उपयोग कई प्रकार की बीमारियों को दूर करने में किया जा सकता है क्योंकि इसमें कई प्रकार के औषधि गुण पाया जाता है जो रोगों को दूर करने में सहायक होता है इसके उपयोग से अनेकों बीमारियों को दूर किया जा सकता है जिनमें से कुछ बीमारिया इस प्रकार से हैं-

  • डायबिटीज ऐसी बीमारी को दूर करने के लिए कमलगट्टे का सेवन किया जा सकता है डायबिटीज रोगियों के लिए बहुत लाभकारी होता है। 
  • आज के समय में बहुत से लोग मोटापे जैसी गंभीर बीमारी से परेशान हैं उन लोगों के लिए कमल गट्टा का हलवा बनाकर खाने से इस बीमारी से छुटकारा पाया जा सकता है। 
  • कमल गट्टा इनफर्टिलिटी की समस्या से छुटकारा दिलाने में बहुत फायदेमंद होता है कमलगट्टे में मौजूद औषधि गुण के कारण यह इनफर्टिलिटी को रिकवर करती है। 
  • कमलगट्टा के उपयोग से पाचन तंत्र अच्छी तरह से काम करने लगता है डायरिया जैसी भयंकर बीमारी से ही कमलगट्टा का सेवन करने से यह दूर हो जाता है कमलगट्टे को खाने से भूख बढ़ जाती है और पाचन तंत्र मजबूत हो जाता है। 
  • हाई ब्लड प्रेशर वाले मरीजों के लिए भी कमल गट्टे का सेवन बहुत फायदेमंद हो सकता है कमलगट्टे के औषधीय गुण पोटेशियम और आयरन पाया जाता है जो हाई ब्लड प्रेशर रोग से छुटकारा दिलाने में मददगार साबित हो सकता है। 

इन्हे भी जाने –

Sehat kaise banaye | सेहत बनाने का 100% असरदार तरीका दवा और घरेलू उपाय

Stamina kaise badhaye | स्टेमिना बढ़ाने के 100 % असरदार उपाय और तरीके

Neem ke Fayde | नीम की पत्तियों के 10 अद्भुत और चमत्कारिक फायदे और उपयोग

Tulsi ke fayde | तुलसी के उपयोग व औषधीय गुण | तुलसी के 19 बेहतरीन फायदे

कमलगट्टे की माला के 7 फायदे

 

Kamal Gatta Kya Hota Hai | कमलगट्टे की माला के 7 फायदे

  1. माता लक्ष्मी जी का आसन कमल का फूल है कमल के फूल में विराजमान रहती हैं माता लक्ष्मी जी की उपासना करने के लिए kamal gatta mala को शुभ माना गया है kamal gatta mala को धारण करने से लक्ष्मी जी की कृपा बनी रहती है इसके अतिरिक्त कमल के बीज या फिर मखाने को भूनकर उसकी खीर बनाकर मां लक्ष्मी जी को अर्पित करने से मां लक्ष्मी जी की कृपा सदैव बनी रहती है। 
  2. जो भी kamal gatta mala को धारण किए रहता है वह हमेशा अपने शत्रुओं से विजय प्राप्त करता है। 
  3.  माता काली जी की उपासना करने के लिए काली हल्दी अथवा kamal gatta mala का उपयोग करना चाहिए क्योंकि इसकी माला से पूजा करने पर जल्दी प्रसन्न हो जाती हैं। 
  4. कमलगट्टे से बनी हुई माला से जब जाप किया जाता है और अपने इष्ट देव का नाम लेकर माला को फेरते हैं तब घर और मन में सकारात्मक वातावरण का संचार होता है। 
  5. दीपावली, अक्षय तृतीया, अक्षय नवमी के दिन इस माला से जाप जाप करने वाले को धन लाभ का अवसर प्राप्त होता है।
  6. ऐसा माना जाता है कि कमलगट्टे के 108 बीजों को घी में भिगोकर उसकी आहुति देने पर गरीबी दूर हो जाती है। 
  7. कुछ लोगों का मानना है कि दुकान ऑफिस में kamal gatta mala को बिछाकर उसके ऊपर मां लक्ष्मी जी की फोटो रखकर पूजा करने से व्यापार में दिन प्रतिदिन तरक्की बढ़ती जाती है।

नोट – शुक्रवार के दिन स्नान करके कमलगट्टे की माला को लेकर108 बार “ॐ श्रीं श्रीं महालक्ष्मयै नमः” मंत्र का जाप करके इस माला को धारण करें। 

Kamal kakdi khane ke fayde

कमल का फूल देखने में जितना सुंदर होता है उसकी जड़े उतनी ही ज्यादा फायदेमंद होती है कमल के जड़ को कमल ककड़ी कहा जाता है कमल ककड़ी स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होता है कमल ककड़ी को औषधि के रूप में भी उपयोग किया जाता है। 

kamal kakdi

कमल ककड़ी की सब्जी घरों पर बनाने के लिए उपयोग किया जाता है कमल ककड़ी में कई विटामिन जैसे – बीटामिन सी, पोटैशियम, फास्फोरस, कार्बोहाइड्रेट, स्टार्च, फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट और एंटी इन्फ्लेमेटरी का गुण पाया जाता है कमल काकड़ी का उपयोग सुंदरता को बढ़ाने के लिए भी किया जाता है। 

कमल काकड़ी खाने के फायदे इस प्रकार है-

  1. सूजन – kamal kakdi के मेथेनॉल अर्क के एक प्रभावी एंटी इन्फ्लेमेटरी एजेंट माना गया है जो शरीर की सूजन को कम करने में सहायक होता है। 
  2. दस्त –  कमल ककड़ी में एंटी डायरिया गुण पाया जाता है जो दस्त और डायरिया से राहत दिलाने मे सहायक होता है।  
  3. डायबिटीज –  कमल काकड़ी का एथेनॉल अर्थ शरीर में इंसुलिन के प्रभाव को बढ़ाता है जो खून में ग्लूकोज के स्तर को कम करने में सहायक होता है। 
  4. एनीमिया – जिन लोगों के शरीर में खून की कमी होती है उन लोगों को kamal kakdi का सेवन करना चाहिए इससे खून की कमी को दूर किया जा सकता है। 
  5. पिंपल – चेहरे के दाग धब्बे झुर्रियां को दूर करने के लिए kamal kakdi बहुत फायदेमंद हो सकता है क्योंकि यह कमल काकड़ी विटामिन सी से भरपूर होता है। 
  6. तनाव – kamal kakdi में पायरोडोक्सीन पाया जाता है जो तनाव को दूर करने में सहायक होता है। 

कोलेस्ट्रॉल –  ब्लड शुगर और कोलेस्ट्रॉल को कम करने के लिए कमल काकड़ी का उपयोग किया जा सकता है क्योंकि इसमें डाइटरी फाइबर पाया जाता है।

इन्हे भी जाने –

kamjori ke lakshan | अगर आप भी महसूस कर रहे है कमजोरी, तो हो सकती है आपको यह बीमारी

lahsun khane ke fayde | लहसुन खाने के 10 बेहतरीन फायदे

kala chana | काले चने के 11 फायदे, उपयोग और नुकसान

Google ka avishkar kisne kiya | गूगल का आविष्कार कब और किसने किया

Share us friends

Leave a Comment

error: Content is protected !!