What is Artificial Intelligence | आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्या है?

आज हम बात करेंगे What is Artificial Intelligence! जिसे Short  में  AI भी कहा जाता है ! Artificial Intelligence  एक नया शब्द है हम सभी के लिए! जिसे हममें से कई लोग इससे अच्छी तरह परिचित हैं परंतु! कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्होंने इसके बारे में कभी सुना ही नहीं। तो हेलो दोस्तों ! कैसे हैं आप सभी! आप यह Article  पढ़ रहे हैं! इसका मतलब ठीक ही होंगे और ठीक नहीं है तो पूरा  article  पढ़ते-पढ़ते ठीक महसूस जरूर करने लगेंगे।

What is Artificial Intelligence?

आइए हम सबसे पहले यह जानते हैं कि AI का मतलब आखिर होता क्या है Artificial  का मतलब होता है कृतिम या  बनावटी जो प्राकृतिक नहीं है जिसे बनाया जा सकता है और intelligence  का मतलब होता है बौद्धिक क्षमता, बुद्धि, ज्ञान।

AI वह कृत्रिम बुद्धिमता है ! जिसमें मशीनों को मनुष्य की बुद्धि की तरह ही बुद्धिमान बनाया जाता है इससे होता यह है कि! मशीन मनुष्य के दिमाग की तरह काम कर पाने में सक्षम हो पाते हैं।

Artificial Intelligence की शुरुआत कब हुई

Artificial Intelligence की शुरुआत सन 1950 में ही हो गई थी एक सोच की तरह लेकिन AI को AI का  नाम मिला 5 साल बाद 1955 में और नाम देने वाले थे जॉन मैकार्थी  इन्हें AI के जनक Father of AI के नाम से भी जाना जाता है।

जॉन मैकार्थी के द्वारा दी गई परिभाषा – The science and  engineering which is making a intelligent machine.

AI पर सबसे पहले ध्यान देने वाला देश था जापान, जापान ने 5th generation के नाम से इसकी शुरुआत 1981 में की।

अब हममें से कई दोस्तों को 5th Generation के बारे में नहीं पता होगा! तो दोस्तों! आपकी जानकारी के लिए बता दें कि आप इसे इस्तेमाल कर रहे हैं लेकिन! इस बात से आप अनजान  थे आप सभी मोबाइल में Google assistant का इस्तेमाल तो करते ही हैं तो बस यही है  5th generation

Artificial Intelligence के प्रकार

Artificial intelligence दो प्रकार के होते हैं-

  • Narrow AI–  इस तरह केArtificial Intelligence को ऐसे डिजाइन किया जाता है जिससे वह सिर्फ एक Particular task को ही करें।
  • General AI-  इस तरह के Artificial Intelligence को सामान्यत: मनुष्य बुद्धि की तरह Design डिजाइन किया जाता है ताकि! जरूरत पड़ने पर अगर कोई मुश्किल काम कराया जाए तो यह आसानी से कर सके ।

Arend Hintze  के मुताबिक  Artificial intelligence चार प्रकार के होते हैं-

  • पूर्णत: प्रतिक्रियात्मक – जो fully reactive होते है ।
  • सीमित स्मृति – Automatic मशीनों में इस्तेमाल किया जाता है।
  • आत्मा चेतन –     जो  Emotional  Conscious हो अभी बनाया नहीं गया।
  • मस्तिष्क सिद्धांत – जो मनुष्य के दिमाग की तरह काम करें लेकिन ऐसा  AI अभी बनाया नहीं गया।

 

Artificial Intelligence

 

इसे भी पढे –

5 simple way to live a happy life | सुखी जीवन जीने के नियम

Personality development in Hindi | अपनी पर्सनालिटी को 3 आसान तरीकों से करें डेवलप

Self Motivate | स्वयं को प्रेरित कैसे करें | Self Motivate के 5 तरीके

How to Overcome Loneliness | अकेलापन कैसे दूर करें | अकेलापन दूर करने के उपाय

Artificial Intelligence के उदाहरण

  1. Automation जो मशीनें  automatic काम करती है।
  2. Machine learning जिस मशीन को जो सिखाया जाता है उसे वह सीख जाते हैं जैसे Apple phone का  SIRI और Android  phone का  Google assistant.
  3.  Natural language processing जैसे एक भाषा का दूसरी भाषा में  translate करना या बोलकर प्रस्तुत करना।
  4. Pattern recognition इसका सबसे अच्छा उदाहरण है QR code.
  5. Robotic में, ड्रोन कैमरा, रोबोट और ऑटोमेटिक मशीनों जैसे उदाहरण मौजूद हैं।

Artificial Intelligence के प्रयोग

आज के दौर में ऐसा कोई विषय क्षेत्र नहीं जहां  Artificial Intelligence का प्रयोग ना होता हो आइए जानते हैंArtificial Intelligence  के क्या प्रयोग है ।

Artificial Intelligence के प्रयोग Security  के लिए,  Space exploration में, computer games में, Health Care में,  Education में,  agriculture में,  field of business, Manufacturing में, Intelligent robot, Smart City के निर्माण में भी AI  के प्रयोग किए जा रहे हैं।

AI के माध्यम से हमारा जीवन बहुत सरल हो गया है  Artificial Intelligence का आविष्कार सफलतापूर्वक होना किसी चमत्कार से कम नहीं।

AI से होने वाले फायदे

  1. Artificial Intelligence आधारित मशीनों के जरिए ऐसे काम कर पाना मुमकिन है! जिसे मनुष्य द्वारा करने पर खतरनाक साबित होते हैं।
  2. Communication, treatment, Sport,  manufacturing जैसे सभी  field में  AI के माध्यम से बड़ा बदलाव लाया जा सकता है जिसकी शुरुआत हो चुकी है।
  3. कठिन से कठिन सॉफ्टवेयर को आसानी से समझने लायक बनाया जा सकता है।
  4.  ऐसे काम जिसे करने के लिए मनुष्य को अधिक समय लगता है! उसे AI  के माध्यम से कम समय में किया जा सकता है।
  5.  AI में Error और  defects कम होते हैं! जिससे एक बार जिस काम के लिए  AI को बनाया गया है वह अपना काम करते रहता है निर्धारित समय तक बहुत कम संभावना होती है उसके Defection की।

AI से होने वाले नुकसान

  1. Privacy की कोई गारंटी नहीं होती।
  2.  no sensitivity।
  3. AI  को बनाने में बहुत अधिक लागत लगती है।
  4.  बड़े कारखानों में ! जहां ऑटोमेटिक मशीनों का प्रयोग किया जा रहा है वह AI  का ही उदाहरण है और कारखानों में मजदूरों की जगह ऑटोमेटिक मशीन मतलब AI  ले लेता है तो मानव रोजगार की समस्या और बढ़ जाएगी।
  5. AI  को जिस काम के लिए बनाया जाता है उस काम के निर्णय लेने के लिए AI  खुद ही सक्षम होता है ऐसे में एक इंसान की दूसरे इंसान पर Dependency खत्म हो जाएगी।

AI के बारे में अन्य जानकारी

  • भारत में पहला AI स्कूल दिल्ली में शुरू किया गया है।
  • भारत के तमिलनाडु में City Union Bank सिटी यूनियन बैंक में देश का पहला robot लाया गया ! जिसका नाम है लक्ष्मी और यह English में बात करती है।
  • तेलंगाना सरकार ने तो 2020 को AI  वर्ष ही घोषित कर दिया है।
  • एक टीवी कार्यक्रम भी चलाया गया था AI के लिए उस कार्यक्रम का नाम था मैं कुछ भी कर सकती हूं। 

इन्हे भी जाने

Raksha Bandhan kab hai । रक्षाबंधन 2022 की तारीख व शुभ मुहूर्त ।

Google ka avishkar kisne kiya | गूगल का आविष्कार कब और किसने किया

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस क्या है?

Artificial  का मतलब होता है कृतिम या  बनावटी जो प्राकृतिक नहीं है जिसे बनाया जा सकता है और intelligence  का मतलब होता है बौद्धिक क्षमता, बुद्धि, ज्ञान।
आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस वह कृत्रिम बुद्धिमता है ! जिसमें मशीनों को मनुष्य की बुद्धि की तरह ही बुद्धिमान बनाया जाता है।

AI का फुल फॉर्म क्या है ?

AI का फुल फॉर्म Artificial Intelligence (कृत्रिम बुद्धिमता) होता है।

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के खोजकर्ता कौन है?

आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के खोजकर्ता जॉन मैकार्थी है। इन्हें AI के जनक Father of AI के नाम से भी जाना जाता है।

 निष्कर्ष

दोस्तों हमने यहा Artificial intelligence के बारे मे जाना और साथ ही Artificial intelligence से संबन्धित सारी बातों को भी! हमे पूरा यकीन है कि अगर आप  Artificial intelligence  के बारे में नहीं जानते थे तो यह आर्टिकल पूरा पढ़ लेने पर आपकी एक अच्छी समझ बन चुकी होगी AI  को लेकर और आपको यह आर्टिकल पसंद आया हो या आपको अच्छी जानकारी मिली है तो इसे अपने दोस्तों को जरूर शेयर करें। 

   धन्यवाद!

Share us friends

Leave a Comment

error: Content is protected !!