World Blood Donor Day 2023: विश्व रक्तदाता दिवस का महत्व, इतिहास

Google News Follow

World Blood Donor Day: 14 June को हर साल विश्व रक्तदाता दिवस मनाया जाता है। रक्तदाता दिवस रक्तदान को बढ़ावा देने के लिए और रक्तदाता को सम्मान व्यक्त करने के लिए मनाया जाता है। रक्तदान एक तरह का महादान होता है जिससे कई लोगों की जान बचाई जाती है, रक्तदान के प्रति लोगों में जागरूकता बढ़ाने के लिए 14 जून को हर साल विश्व रक्तदाता दिवस मनाया जाता है। World Blood Donor Day कब से शुरू किया गया? इसके पीछे का इतिहास क्या है? और इसका महत्व क्या है? Word blood donor day 2023 Theme क्या है? इन सभी के जवाब हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से देंगे इसलिए इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

World Blood Donor Day

World Blood Donor Day कब से शुरू किया गया

World blood donor day मनाने की शुरुआत सन 2004 में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO)ने की थी। तब से हर वर्ष 14 जून को वर्ड ब्लड डोनर डे मनाया जा रहा है, ब्लड डोनेशन की क्रिया दर्द रहित है और इससे किसी जरूरतमंद इंसान की जिंदगी भी बचाई जा सकती है।

DNA क्या है? DNA (डिऑक्सीराइबोन्यूक्लिक अम्ल) के कार्य

World Blood Donor Day 2023 Theme

दोस्तों रक्तदाता दिवस के अवसर पर हर वर्ष एक खास और अलग थीम होती है और आज 14 जून 2023 की Theme है “Give blood, give plasma, share life, share often” (रक्त दो प्लाज्मा दो, जीवन सांझा करो, अक्सर समझा करो)। 

इसे भी पढ़े –

Health kaise banaye: सेहत कैसे बनाए पूरी जानकारी

मोटापा कम करने का घरेलू उपाय | Motapa Kam Karne Ke Upay

हर सुबह खाली पेट नीम की पत्ती खाने के फायदे, उपयोग व नुकसान

विश्व रक्तदाता दिवस का इतिहास

रक्तदाता दिवस की शुरुआत 2004 में विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने की थी और तभी से हर साल 14 जून को विश्व रक्तदाता दिवस मनाया जाता है, लेकिन इसके पीछे का खास कारण यह है की वैज्ञानिक कार्ल लैडस्टीनर ने ब्लड ग्रुप सिस्टम की खोज की थी और उनके इस योगदान के लिए 2030 में कार्ल लैडस्टीनर को नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था। World blood donor day वैज्ञानिक कार्ल लैडस्टीनर का जन्मदिन 14 जून को होता है और रक्तदाता दिवस उन्हीं के नाम पर समर्पित है इसलिए 14 जून को ही रक्तदाता दिवस मनाया जाता है।

विश्व रक्तदाता दिवस का महत्व

रक्तदाता दिवस उन लोगों के सम्मान देने के लिए मनाया जाता है जो रक्तदान करते हैं, साथ ही लोगों में जागरूकता बढ़ाते हैं कि रक्तदान करने से वह कितना नेक काम कर रहे हैं और इससे किसी का जीवन भी बचाया जा सकता है।  रक्तदान की क्रिया दर्द रहित होती है इसलिए रक्तदान करते समय किसी भी तरह का दर्द नहीं होता है। 

पूरी दुनिया में कई जीवन है जिनमें से अक्सर रक्त की जरूरत पड़ने पर उसकी पूर्ति नहीं होती है तब लोगों को अपनी और अपने परिजनों की जान खोनी पड़ती है, आपके एक रक्तदान से किसी जरूरतमंद की जरूरत पूरी होगी और उसे नया जीवन मिलेगा। 

रक्त की आवश्यकता जीवन को बचाने में, रोगी की सर्जरी के समय, कैंसर के उपचार के लिए और अन्य स्वास्थ्य संबंधी खतरों के लिए आवश्यक है। 

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) की रिपोर्ट की बात करें तो दुनिया भर में लगभग 118.54 मिलियन रक्तदान एकत्र किया जाता है। जिसमें से लगभग 40% अधिक आय कमाने वाले देशों में एकत्र किया जाता है, जहां दुनिया की सिर्फ 16% आबादी रहती है। 169 देश में लगभग 13300 रक्तदान केंद्र मे से कुल 106 मिलियन दान एकत्र करने की रिपोर्ट WHO रखते हैं।

Share us friends

Leave a Comment