kala namak ke fayde | काला नमक खाने के 13 फायदे

काला नमक के बारे में आप लोग तो जानते ही होंगे kala namak ke fayde के बारे मे नहीं जानते होंगे काला नमक का सेवन करना स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होता है काला नमक आपके घर के किचन में आसानी से मौजूद होता है लेकिन शायद आपको यह पता नहीं होगा कि काला नमक कई औषधीय गुणों से भरपूर होता है अगर साधारण नमक की जगह kala namak का प्रतिदिन सेवन करें तो स्वास्थ्य से संबंधित कई समस्याएं दूर हो जाती है।

Content of table show
kala namak

 

kala namak एसिडिटी को दूर करने में सहायक होता है और यह कोलेस्ट्रॉल, डायबिटीज, डिप्रेशन और पेट से जुड़ी कई समस्याओं को दूर करने के लिए काला नमक का उपयोग किया जा सकता है इस पोस्ट में हम जानेंगे कि काला नमक क्या है यह कितने प्रकार के होते हैं और kala namak ke fayde क्या-क्या हैं यह जानने के लिए पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें।

kala namak kya hai | काला नमक क्या है

kala namak को सुलेमानी नमक भी कहते हैं इसकी खुदाई कई जगहों से किया जाता है इसमें सोडियम क्लोराइड जैसे कई मिश्रण होते हैं जो इस नमक को रंग और सुगंध देते हैं काला नमक को कई नामों से जाना जाता है जैसे- काला नमक, गुलाबी नमक, रॉक साल्ट, ब्लैक साल्ट इत्यादि हिमालय से प्राप्त किए जाने के कारण इस नमक को हिमालयन रॉक साल्ट कहा जाता है इसमें आयरन और अन्य खनिज होने के कारण इसका रंग गुलाबी होता है kala namak का ज्यादातर उपयोग दक्षिण एशिया में किया जाता है इसका नियमित रूप से सेवन करने से स्वास्थ्य में कई प्रकार के लाभ पहुंचाता है।

काला नमक के प्रकार | types of black salt

काला नमक मुख्य रूप से तीन प्रकार के होते हैं

  • हिमालयन काला नमक
  • काला लावा नमक
  • रिचुअल काला नमक

हिमालयन काला नमक

इस नामक को भारत में kala namak के नाम से जाना जाता है इसका रंग हल्का भूरा और गुलाबी होता है यह सुगंधित होता है और इसका स्वाद हल्का तीखा होता है इसका उपयोग मुख्य रूप से एशिया और भारत में किया जाता है खाना बनाते समय या अन्य कोई पकवान बनाते समय इसका उपयोग किया जाता है।

काला लावा नमक

इस नमक का उत्पादन हवाई नामक जगह में होता है इस कारण इस नमक को हवाईयन kala namak भी कहा जाता है यह देखने में गहरे काले रंग का होता है इस नमक का उपयोग खाना पकाने के बाद ऊपर से डाला जाता है जिससे खाने का स्वाद कई गुना ज्यादा बढ़ जाता है।

काला रिचुअल नमक

यह नमक राख, समुद्री नमक और कोयले के मिश्रण से बना होता है जिसके कारण इस नमक को विच नमक भी कहा जाता है इस नमक का उपयोग खाने के लिए नहीं किया जाता है।

काला नमक स्वास्थ्य के लिए अच्छा क्यों है

kala namak कई औषधीय गुणों से भरपूर होता है जिसके कारण इसका उपयोग आयुर्वेद मे दवाइयों के निर्माण मे किया जाता है जो स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होता है इसमें आयरन की मात्रा भरपूर पाई जाती है जिससे इसका सेवन करने से सीने की जलन, सूजन और पेट में गैस की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है।

kala namak में सोडियम की मात्रा कम होने के कारण यह उच्च रक्तचाप के रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है यह रक्तचाप बढ़ने से रोकता है काला नमक का अगर नियमित रूप से उपयोग किया जाता है तो आंखों की रोशनी में सुधार होता है, पाचन तंत्र और आँत को ठीक रखा जा सकता है इसलिए स्वास्थ्य के लिए अच्छा होता है आइए जानते हैं kala namak ke fayde क्या-क्या होते हैं।

इन्हे भी जाने –

kala chana | काले चने के 11 फायदे, उपयोग और नुकसान

Kabuli Chana: काबुली चना खाने के 12 बेहतरीन फायदे

Nariyal Pani ke Fayde in Hindi | नारियल पानी के 12 बेहतरीन फायदे

Kamal Gatta Kya Hota Hai | कमलगट्टे की माला के 7 फायदे

काला नमक के फायदे | benefits of black salt

काला नमक हमारे भोजन के स्वाद को कई गुना बढ़ा देता है और इसके साथ हमारे स्वास्थ्य के लिए भी कई प्रकार से लाभ पहुंचाता है kala namak ke fayde इस प्रकार से हैं-

सीने की जलन मे राहत

जो लोग सीने की जलन की समस्या से अक्सर परेशान रहते हैं उन लोगों के लिए काला नमक का सेवन करना बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है kala namak में आयरन प्रचुर मात्रा में पाया जाता है जिसके कारण यह सीने की जलन की समस्या से राहत पहुंचाने का काम कर सकता है।

मधुमेह रोगियों के लिए

मधुमेह रोगियों के लिए काले नमक का सेवन करना फायदेमंद हो सकता है मधुमेह रोगियों को शक्कर और कम नमक खाने की सलाह दी जाती है ऐसे में काले नमक का उपयोग करना उनके लिए अच्छा हो सकता है क्योंकि सामान्य नमक में सोडियम की मात्रा ज्यादा होती है और kala namak में सोडियम की मात्रा कम होती है जो मधुमेह रोगियों के लिए अच्छा हो सकता है।

शुगर के लिए काला नमक के फायदे

kala namak शुगर के मरीजों के लिए लाभदायक हो सकता है क्योंकि इसमें ऐसे औषधि गुण मौजूद हैं जो शुगर को नियंत्रित करने में सहायक होते हैं लेकिन इस बात का ध्यान रखें कि काले नमक का ज्यादा सेवन ना करें क्योंकि इसके ज्यादा सेवन से डायबिटीज के मरीजों के लिए नमक युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करना नुकसानदेह हो सकता है।

सर्दी जुकाम अस्थमा मे लाभदायक

सर्दी जुकाम और अस्थमा का इलाज करने में kala namak बहुत लाभदायक हो सकता है काले नमक को गुनगुने पानी के साथ या उबले हुए अंडे में डालकर सेवन किया जा सकता है काले नमक को पानी में उबालकर इसका भाप लेने से बलगम और खांसी को दूर करने में मददगार साबित हो सकता है।

नींद लाने में सहायक

अच्छी नींद लाने में भी काला नमक मदद कर सकता है क्योंकि यह कोर्टिसोल और एड्रेनलाइन जैसे हार्मोन को कम कर देता है जिससे अच्छी नींद आती है।

वजन के लिए काला नमक

साधारण नमक में सोडियम की मात्रा ज्यादा होती है जो मोटापे को बढ़ाती है जिससे शरीर का वजन बढ़ने लगता है ऐसे में काले नमक का उपयोग करना फायदेमंद हो सकता है kala namak में एंटी ओबेसिटी गुण पाया जाता है जो मोटापा और वजन को कम करने में सहायक होता है ऐसे में वजन कम करने के लिए एक्सरसाइज करने के साथ-साथ काले नमक का उपयोग करना भी फायदेमंद हो सकता है।

कब्ज और पेट फूलने की समस्या में राहत

जो लोग कब्ज और पेट फूलने जैसी समस्या से जूझ रहे हैं उनके लिए kala namak ke fayde को देखा जा सकता है कब्ज और पेट की समस्या के लिए कई प्रकार के आयुर्वेदिक चूर्ण का उपयोग किया जाता है उन सभी चूर्ण मैं मुख्य रूप से kala namak का ही प्रयोग किया जाता है काला नमक में लैक्सेटिव गुण पाया जाता है जो पेट में गैस बनने और अन्य समस्याओं से छुटकारा दिलाने में सहायक होता है kala namak का उपयोग घरों में भी आयुर्वेदिक चूर्ण बनाने के लिए किया जाता है।

रक्तचाप के लिए

रक्तचाप (ब्लड प्रेशर) रोगियों के लिए भी काला नमक का उपयोग करना फायदेमंद हो सकता है अपने भोजन में सोडियम का ज्यादा उपयोग करने से रक्तचाप बढ़ जाता है ऐसे में साधारण नमक की जगह काले नमक का सीमित मात्रा में उपयोग करने से इस समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है kala namak में सोडियम क्लोराइड की मात्रा बहुत कम होती है जो रक्तचाप को कंट्रोल कर सकती है इस आधार पर यह कहा जा सकता है कि काला नमक रक्तचाप को नियंत्रित रखने के लिए उपयोग किया जा सकता है।

मांसपेशियों के ऐठन के लिए

काला नमक में इलेक्ट्रोलाइट्स (मैग्नीशियम, पोटेशियम और कैल्शियम) पाया जाता है जो शरीर के मांसपेशियों की ऐंठन से राहत दिला सकता है जब शरीर में इलेक्ट्रोलाइट्स की कमी हो जाती है तब मांसपेशियों में ऐठन की समस्या उत्पन्न हो जाती है kala namak ke fayde के बारे में बात किया जाए तो मांसपेशियों के ऐंठन मे राहत दिला सकता है।

बच्चों के लिए काला नमक के फायदे

काला नमक बच्चों के स्वास्थ्य के लिए भी लाभदायक हो सकता है बच्चों को सोडियम की कम मात्रा देने की सलाह दी जाती है जिससे कि उन्हें ह्रदय संबंधी खतरों से दूर रखा जा सके kala namak में साधारण नमक की अपेक्षा सोडियम कम मात्रा में पाया जाता है इससे बच्चों को अधिक सोडियम की मात्रा से होने वाले नुकसान से बचाया जा सकता है।

पाचन तंत्र के लिए काला नमक के फायदे

kala namak ke fayde में जिन लोगों का पाचन तंत्र सही नहीं रहता है उन लोगों के लिए लाभदायक हो सकता है काला नमक में लैक्सेटिव गुण पाया जाता है जो पाचन तंत्र की समस्याओं से राहत दिला सकता है।

त्वचा के लिए काला नमक के फायदे

काला नमक के फायदे को त्वचा पर भी देखा जा सकता है इसमें कई प्रकार के प्राकृतिक मिनरल होते हैं जिसके कारण इसे ब्यूटी पार्लर मे चेहरे के मृत कोशिकाओं को हटाने के लिए उपयोग किया जाता है kala namak त्वचा की गंदगी को बाहर निकालने का काम करती है जिससे त्वचा मे चमक बढ़ जाती है।

बालों के लिए काला नमक के फायदे

काला नमक में क्लींजिंग और एक्सफोलिएटिंग गुण पाया जाता है जो बालों के लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है यह मृत कोशिकाओं और बालों को साफ रखने के लिए काम में लाया जा सकता है पानी में kala namak मिलाकर नहाने से बाल चमकीले हो जाते हैं या कहे तो बालों की कंडीशनिंग हो जाती है।

kala namak ke fayde क्या है यह जानने के बाद आइए अब जानते हैं कि इसका उपयोग कैसे किया जाता है।

इन्हे भी जाने –

Chameli ka phool | चमेली का फूल के 10 फायदे

Gudhal ka Phool :  गुड़हल का फूल के फायदे और औषधीय गुण

Neem ke Fayde | नीम की पत्तियों के 10 अद्भुत और चमत्कारिक फायदे और उपयोग

lahsun khane ke fayde | लहसुन खाने के 10 बेहतरीन फायदे

काला नमक का उपयोग

काला नमक को हम कई तरह से उपयोग कर सकते हैं लेकिन कुछ लोगों को इसके बारे में पता नहीं होता है आइए जानते हैं इसके उपयोग करने के तरीके के बारे में।

काला नमक कैसे खाएं

  • काला नमक को सलाद के ऊपर छिड़क कर खाएं।
  • काला नमक को सब्जी बनाने के लिए उपयोग किया जा सकता है।
  • पुदीने की चटनी बनाने में भी इसका उपयोग किया जा सकता है।
  • नींबू पानी बनाने में भी काले नमक का उपयोग कर सकते हैं।
  • दही बड़ा, कचोरी, पानी पुरी आदि बनाने में भी काले नमक का उपयोग कर सकते हैं।
  • काला नमक का उपयोग चाट मसाला, पाव भाजी मे भी किया जा सकता है।

काला नमक कब खाएं

  • जैसा कि इस पोस्ट में बताया गया है कि kala namak को सब्जी के साथ खाया जा सकता है इस आधार पर इसको दोपहर या रात के समय खा सकते हैं।
  • भोजन के साथ सलाद में मिलाकर सुबह या शाम के समय खा सकते हैं।
  • शाम के समय स्नेक में काला नमक मिलाकर दही बड़ा और पाव भाजी के साथ उपयोग कर सकते हैं।

काला नमक कितना खाएं

साधारण नमक को दिन भर में लगभग एक चम्मच खाने की सलाह दी जाती है जिसमें 5 ग्राम के लगभग सोडियम क्लोराइड होता है इस हिसाब से काले नमक का उपयोग भी उतनी मात्रा में किया जा सकता है शरीर में आवश्यक खनिज प्राप्त करने के लिए इतना नमक पर्याप्त होता है।

नोट – काला नमक के फायदे घरेलू नुक्सा के आधार पर बताया गया है इसका सेवन कब और कितना करना चाहिए यह डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही करें।

काला नमक को लंबे समय तक सुरक्षित कैसे रखें

कुछ लोग kala namak को खरीद कर रख लेते हैं और कुछ दिनों के बाद उसमें नमी आ जाती है तो इसको सुरक्षित कैसे रखें आइए जानते हैं-

  • काले नमक को लंबे समय तक सुरक्षित रखने के लिए एयर टाइट डिब्बे में पैक करके रखें।
  • अगर यह आपके आसपास के दुकान में आसानी से मिल जाता है तब आप ज्यादा मात्रा में ना खरीद कर कम मात्रा में ही खरीदें।
  • इस नमक को डिब्बे से निकालने के लिए सूखे चम्मच का ही उपयोग करें कई लोग हाथ से ही नमक को निकाल लेते हैं जिससे उसमें नमी बन जाती है।

kala namak ke fayde के बारे में आप लोगों ने तो जान लिया लेकिन इसके कुछ नुकसान भी होते हैं आइए जानते हैं इसके नुकसान के बारे में कि यह किस तरह से नुकसान पहुंचा सकता है।

काला नमक के नुकसान

काला नमक के फायदे और नुकसान इसके उपयोग करने की मात्रा के आधार पर निर्भर करता है अगर kala namak का ज्यादा मात्रा में उपयोग किया जाता है तो यह नुकसान दायक हो सकता है यह जानकारी सामान्य नमक और काला नमक मे उपलब्ध तत्वों के आधार पर बताया गया है।

  • हृदय रोग
  • उच्च रक्तचाप
  • पथरी
  • किडनी से संबंधित समस्याएं
  • मतली या उल्टी
  • पेट का कैंसर

Mobile ka avishkar kisne kiya | मोबाइल का आविष्कार किसने और कब किया था

पुछे जाने वाले प्रश्न 

प्रश्न 1. काला नमक का दूसरा नाम क्या है?

kala namak को सुलेमानी नमक भी कहते हैं इसकी खुदाई कई जगहों से किया जाता है इसमें सोडियम क्लोराइड जैसे कई मिश्रण होते हैं जो इस नमक को रंग और सुगंध देते हैं काला नमक को कई नामों से जाना जाता है जैसे काला नमक, गुलाबी नमक, सेंधा नमक इत्यादि।

प्रश्न 2. गर्म पानी में काला नमक डालकर पीने से क्या होता है?

काला नमक को पानी में मिलाकर पीने से यह पेट के अंदर हाइड्रोक्लोराइड एसिड और प्रोटीन को पचाने वाले एंजाइम को उत्तेजित कर देता है। खाना अच्छी तरह से हजम हो जाता है जिससे पेट साफ रहता है पेट में गैस नहीं बनती है।

प्रश्न 3. क्या हम रोजाना काला नमक इस्तेमाल कर सकते हैं?

हां काला नमक को हम रोजाना इस्तेमाल कर सकते हैं सलाद के साथ में या फिर खाना पकाते समय सब्जी में डाल कर लेकिन इसका ज्यादा सेवन करने से बचना चाहिए क्योंकि इसके ज्यादा सेवन करने से रक्तचाप बढ सकता है।

प्रश्न 4. काला नमक में कौन सा विटामिन पाया जाता है?

काला नमक में आयरन और मिनरल भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं।

प्रश्न 5. क्या काला नमक ब्लड प्रेशर बढ़ाता है?

काला नमक का अत्यधिक ज्यादा सेवन करने से हाई ब्लड प्रेशर की समस्या उत्पन्न हो सकती है ब्लड प्रेशर के मरीजों का ब्लड प्रेशर हाई हो सकता है इसलिए हाई ब्लड प्रेशर के मरीजों को काला नमक का सेवन सीमित मात्रा में ही करना चाहिए।

निष्कर्ष

इस पोस्ट kala namak ke fayde को पूरा पढ़ लेने के बाद आपको यह समझ में आ गया होगा कि काला नमक क्या है यह कितने प्रकार का होता है, काला नमक का उपयोग साधारण नमक की अपेक्षा अच्छा क्यों है kala namak ke fayde और नुकसान किस प्रकार से हो सकता है हमे उम्मीद है की यह पोस्ट अच्छी लगी होगी और कुछ नई जानकारी मिली होगी यह पोस्ट आपको कैसी लगी कमेंट करके जरूर बताएं और ज्यादा से ज्यादा लोगों को शेयर करें और ऐसे ही पोस्ट पातें रहने के लिए सब्सक्राइब करना न भूलें।

धन्यवाद!

Share us friends

Leave a Comment

error: Content is protected !!