Hosting kya hai : जाने आप के लिए कौन सी होस्टिंग है बेहतर

Google News Follow

हेलो दोस्तों आज इस पोस्ट में hosting के बारे में बताने वाला हूं जिसमें आप जानेंगे कि hosting kya hai, hosting kya hoti hai, what is hosting in Hindi, hosting कितने प्रकार की होती है अगर आप hosting के बारे में पूरी जानकारी पाना चाहते हैं तो इस पोस्ट को पूरा अंत तक जरूर पढ़ें जिससे कि होस्टिंग के बारे में अच्छे से जान और समझ सके। 

hosting kya hai

Hosting kya hai | What is Hosting in Hindi

Hosting in Hindi- Hosting को वेब होस्टिंग या वेबसाइट होस्टिंग के नाम से भी जानते हैं, वेब होस्टिंग इंटरनेट पर ऑनलाइन एक ऐसी सेवा है जो किसी संगठन या व्यक्ति को अपनी वेबसाइट या अन्य फाइलों को इंटरनेट पर दिखाने की अनुमति देता है। लोगों को एक अच्छी गुणवत्तापूर्ण सेवा प्रदान करने के लिए एक अच्छी वेबसाइट होस्टिंग का होना बहुत आवश्यक है।

होस्टिंग एक ऐसा जगह होता है जहां पर फाइलों को एकत्रित किया जाता है होस्टिंग के इस्तेमाल से वेब सर्वर पर या अन्य कंप्यूटर पर किसी भी प्रकार के डाटा या वेबसाइट को स्टोर करके रखने के लिए किया जाता है ताकि जरूरत पड़ने पर वेबसाइट को इंटरनेट के द्वारा एक्सेस किया जा सके। 

एक ऐसी कंपनी जो वेब स्टोर करने के लिए अपने सर्वर पर पैसा लेकर जगह देती है इस प्रकार से अपनी वेब होस्टिंग सेवाएं उपयोगकर्ताओं को देती है जिससे कि अन्य उपयोगकर्ताओं को एक्सेस करने में कठिनाई ना हो उसे आसानी से एक्सेस कर सके। 

वेबसाइट कैसे बनाएं | Free में खुद की वेबसाइट बनाएं [2023]

आसान शब्दों में समझें तो होस्टिंग एक ऐसी सेवा है जिसके द्वारा एक या एक से अधिक वेबसाइटो और उससे संबंधित सेवाओं के लिए जगह और उसके रखरखाव के लिए किसी बड़े संगठन या किसी व्यक्ति को डाटा को सुरक्षित एक स्थान पर रखने के लिए कंप्यूटिंग संसाधन प्रदान किया जाता है।

होस्टिंग IP Address पर आधारित नहीं होता है ज्यादातर वेब आधारित सेवा है जो किसी वेबसाइट या वेब सेवा को विश्व में किसी भी जगह पर आसानी से उपलब्ध होने की अनुमति देता है होस्टिंग को वेबसाइट होस्टिंग या वेब होस्टिंग के नाम से जाना जाता है। 

इसे भी पढ़े –

Cloud Computing in Hindi | क्लाउड कम्प्यूटिंग क्या है ?

ISP क्या है और इसका काम क्या है? | Internet service provider

Artificial Intelligence क्या है | AI in hindi

Web Hosting kya hai | Web Hosting in Hindi

Web hosting kya hai- Web hosting भंडारण जगह या इंटरनेट होस्टिंग होती है जहां पर आपके वेबसाइट डाटा को वेब सर्वर पर एकत्रित किया जाता है जिससे उपयोगकर्ता इंटरनेट के द्वारा आसानी से एक्सेस कर सके। 

मुख्य रूप से वेब होस्टिंग एक या एक से अधिक वेबसाइट के files को व्यवस्थित रखने, सेवा देने और उसे बनाए रखते है। 

वेबसाइट फाइलों को सुरक्षित रखने के लिए कंप्यूटर स्पेस की तुलना में वेब होस्टिंग बहुत महत्वपूर्ण है सरल शब्दों में कहें तो वेब होस्टिंग वह है जो वेबसाइट उसे चलाने वाले लोग उस वेबसाइट पर उपलब्ध सामग्री को कैसे संग्रहित करते हैं। ज्यादातर वेबसाइट में यह सामग्री लेख, फोटो, वीडियो, ऑडियो और अन्य सामग्री होती है जिसे होस्ट करने की आवश्यकता होती है।

जब कोई भी वेब होस्टिंग खरीदता है तो वह होस्टिंग सेवा प्रदान करने वाले अपने सर्वर पर किराए से जगह देते हैं जिसे उपयोग करने के लिए अलॉट किया जाता है। अब तक हमने जाना कि Hosting kya hai और Web Hosting kya hai, अब हम जानते है की वेब होस्टिंग कैसे काम करती है।

वेब होस्टिंग कैसे काम करती है

जब हम कोई वेबसाइट बनाते हैं तो हम यह चाहते हैं कि हमारे द्वारा दी गई जानकारी लोगों तक पहुंचे इसके लिए हमें सबसे पहले अपने फाइल्स को web hosting में upload करना होता है और जब हम वेब होस्टिंग में फाइल को अपलोड कर देते हैं उसके बाद जब भी कोई यूजर इंटरनेट पर अपने वेब ब्राउजर जैसे- Chrome, Mozilla Firefox, Opera, Internet explorer पर आपके domain name लिखकर सर्च करता है तब internet उस domain name को web server से connect कर देता है। 

जहां पर आपके वेबसाइट की फाइल्स पहले से ही स्टोर रहती है connect होने के बाद website मे उपलब्ध सभी जानकारियां उस यूजर के कंप्यूटर पर दिखाई देने लगता है और वहां से यूजर अपने जरूरत के हिसाब से page view करके जानकारियां प्राप्त कर लेता है।

Domain name को hosting से connect करने के लिए DNS (Domain Name System) का उपयोग किया जाता है इससे domain को यह पता चल जाता है कि आपकी वेबसाइट किस web server पर है क्योंकि हर server का DNS अलग अलग होता है। 

App kaise banaye? मोबाइल से app बनाए बिना कोडिंग किए Free मे

वेब होस्टिंग कहां से खरीदें

दुनिया भर में कई सारी company है जो अच्छी से अच्छी hosting provide करवाती हैं अगर आप यह चाहते हैं कि आपके सभी visitor India के हो तो आपको India से ही hosting खरीदना सबसे ज्यादा अच्छा रहेगा क्योंकि आपकी hosting का server आपके देश से जितनी ज्यादा दूर होगा आपकी वेबसाइट को access करने में उतना ही ज्यादा टाइम लगेगा। 

अगर आप India के किसी भी web hosting providers से hosting खरीदते हैं तो आपको credit card की आवश्यकता नहीं पड़ती है आप अपने ATM card या internet banking के माध्यम से खरीद सकते हैं और जब आप एक बार hosting खरीद लेते हैं तो उसके बाद अपने domain name को आसानी से connect करके access कर सकते हैं यहां पर मैं कुछ भरोसेमंद और अच्छी होस्टिंग प्रदाता के नाम बता रहा हूं आप चाहे तो यहां से खरीद सकते हैं-

  • Hostinger India
  • Godaddy
  • Blue host
  • Hostgator India
  • Big rock

होस्टिंग के प्रकार | Types of hosting

वैसे तो होस्टिंग कई प्रकार की होती है लेकिन सबसे ज्यादा उपयोग किए जाने वाले होस्टिंग सात प्रकार की होती है

  • Shared hosting
  • VPS hosting virtual private server
  • Cloud hosting
  • Reseller hosting
  • WordPress hosting
  • Dedicated hosting
  • Managed hosting

आइए अब इन सभी होस्टिंग के बारे में विस्तार से जानते हैं-

Shared hosting

यह ऐसी होस्टिंग होती है जो एक ही सर्वर पर कई उपयोगकर्ताओं को स्थान दिया जाता है जहां पर हजारों वेबसाइट एक ही कंप्यूटर सर्वर पर स्टोर होता है इसलिए इस होस्टिंग को शेयर्ड होस्टिंग कहते हैं शेयर्ड होस्टिंग सस्ती कीमत पर मिल जाता है और इसका कंट्रोल पैनल user-friendly होता है जिससे इसको इस्तेमाल करना और सेट अप करना आसान होता है। 

VPS hosting

यह एक ऐसी होस्टिंग होती है जिसमें एक सर्वर को अलग-अलग वर्चुअल सर्वर में बांट दिया जाता है और एक व्यवसाय के लिए एक वर्चुअल सर्वर दिया जाता है जिसमें किसी और दूसरे का अधिकार नहीं होता है यह शेयर्ड होस्टिंग की अपेक्षा ज्यादा तेज गति से काम करता है लेकिन यह shared hosting की अपेक्षा ज्यादा महंगा होता है इसमें वेबसाइट को अच्छी सिक्योरिटी और परफारमेंस मिलता है। 

Cloud web hosting 

यह hosting का एक ऐसा प्रकार है जो दूसरे clustered server के resources का उपयोग करता है इसका मतलब यह है कि आपकी वेबसाइट दूसरे server के virtual resources का उपयोग करती है यह website के load को balance बनाकर रखती है इसमें सुरक्षा का ज्यादा ध्यान दिया जाता है इसमें सभी hardware resources उपलब्ध होता है जिससे कि कभी भी और कहीं पर भी उपयोग कर सकते हैं ज्यादा ट्राफिक को हैंडल करने में सक्षम होता है जैसे server down होने की संभावना बहुत कम होती है। 

Dedicated hosting

Dedicated hosting का जो server होता है उसमें सिर्फ एक ही वेबसाइट की फाइल्स को स्टोर करके रखा जाता है यह सबसे ज्यादा तेज server होता है और यह होस्टिंग भी सबसे ज्यादा महंगी होती है क्योंकि इसका पूरा किराया एक ही व्यक्ति को देना पड़ता है यह होस्टिंग उन लोगों के लिए ज्यादा अच्छा होता है जिनकी वेबसाइट पर हर महीने बहुत ज्यादा visitor आते हैं जैसे- ई-कॉमर्स वेबसाइट, Flipkart, Amazon, Snapdeal यह सभी वेबसाइट dedicated hosting का उपयोग करती हैं। 

होस्टिंग का मतलब क्या होता है

होस्टिंग का मतलब होता है मेजबानी और मेजबानी का अर्थ होता है की अपने घर पर आए हुए मेहमान का स्वागत सत्कार करना बिल्कुल इसी तरह वेब होस्टिंग का मतलब होता है इंटरनेट पर स्वागत करना इंटरनेट पर जो भी लोग हमारी वेबसाइट को उपयोग करते हैं उन्हें अच्छी सर्विस देना होता है अगर वह हमारी ब्लॉग वेबसाइट पर किसी भी इंफॉर्मेशन को प्राप्त करने के लिए आता है तो हमें अच्छी इंफॉर्मेशन देना होता है जिससे कि वह उस इंफॉर्मेशन को पढ़कर संतुष्ट हो सके। 

होस्टिंग सर्वर का मतलब क्या होता है

होस्टिंग और सर्वर एक ऐसी टेक्नोलॉजी है जो वेबसाइट को होस्ट करने और संचार करने के लिए किया जाता है होस्टिंग एक ऐसी जगह होती है जहां पर वेबसाइट होस्ट किया जाता है और सर्वर वह जगह होती है जहां पर वेबसाइट होस्ट रहती है। 

पूछे जाने वाले प्रश्न 

होस्टिंग का मतलब क्या होता है?

Hosting kya hai: Hosting को वेब होस्टिंग या वेबसाइट होस्टिंग के नाम से भी जानते हैं। इसका मतलब है मेजबानी, वेब होस्टिंग इंटरनेट पर ऑनलाइन एक ऐसी सेवा है जो किसी संगठन या व्यक्ति को अपनी वेबसाइट या अन्य फाइलों को इंटरनेट पर दिखाने की अनुमति देता है। होस्टिंग के इस्तेमाल से वेब सर्वर पर या अन्य कंप्यूटर पर किसी भी प्रकार के डाटा या वेबसाइट को स्टोर करके रखने के लिए किया जाता है ताकि जरूरत पड़ने पर वेबसाइट को इंटरनेट के द्वारा एक्सेस किया जा सके। 

होस्टिंग सर्वर कैसे काम करते हैं?

जब हम वेब होस्टिंग में फाइल को अपलोड कर देते हैं उसके बाद जब भी कोई यूजर इंटरनेट पर अपने वेब ब्राउजर पर आपके domain name लिखकर सर्च करता है तब internet उस domain name को web server से connect कर देता है। 
जहां पर आपके वेबसाइट की फाइल्स पहले से ही स्टोर रहती है connect होने के बाद website मे उपलब्ध सभी जानकारियां उस यूजर के कंप्यूटर पर दिखाई देने लगता है।

होस्ट कितने प्रकार के होते हैं?

वैसे तो होस्टिंग कई प्रकार की होती है लेकिन सबसे ज्यादा उपयोग किए जाने वाले होस्टिंग 7 प्रकार की होती है।
1. Shared hosting
2. VPS hosting virtual private server
3. Cloud hosting
4. Reseller hosting
5. WordPress hosting
6. Dedicated hosting
7. Managed hosting

अंत मे –

दोस्तो हमने अभी इस पोस्ट के माध्यम से जाना hosting kya hai, Web Hosting kya hai और hosting के सभी प्रकारो के बारे मे भी हमने विस्तार से जानकारी उपलब्ध कराई है। अगर आप के कोई सवाल हो तो हमे कमेंट के माध्यम से पूछ सकते है। अगर आप भी खुद की वेबसाइट बनाना चाहते है और आप समझ नही पा रहे है की होस्टिंग कैसे खरीदे तो आप हमसे सीधे संपर्क करे contact us हम आप की मदद करेंगे धन्यवाद!

Share us friends

Leave a Comment