OTP kya hai | One time password की पूरी जानकारी | OTP के 7 फायदे

One time password kya hai (OTP kya hai)- आपने कहीं ना कहीं OTP के बारे में जरूर सुना होगा लेकिन क्या आप लोगों को पता है कि यह one time password क्या होता है अगर यह नहीं जानते हैं तो इस पोस्ट को पूरा पढ़ कर आप जरूर जान जाएंगे। 

आजकल हर काम ज्यादातर हम ऑनलाइन ही कर लेते हैं कोई भी ऑनलाइन ट्रांजैक्शन करना हो, मोबाइल रिचार्ज, खरीददारी के बाद पेमेंट करना हो या फिर इसी प्रकार का ऑनलाइन अकाउंट खोलते हैं तो उसमें भी ओटीपी का इस्तेमाल अवश्य किया जाता है। 

ओटीपी ज्यादातर मैसेज के रूप में ही भेजा जाता है क्योंकि सभी मोबाइल हैंडसेट में मैसेज की सुविधा होती है। तो चलिए जान लेते हैं कि यह क्या है और इसका इस्तेमाल क्यों किया जाता है इसके साथ ही हम यह भी जानेंगे कि इसके फायदे क्या होते हैं और यह कहां-कहां यूज़ किया जाता है। 

One time password क्या है? OTP kya hai?

OTP kya hai- OTP एक सिक्योरिटी कोड होता है! जो अधिकतर 6 डिजिट का रहता है! इसके फुल फॉर्म One time password से ही पता चल जाता है कि! इसका प्रयोग सिर्फ एक बार ही किया जा सकता है

इसके साथ ही OTP एक वेरीफिकेशन की विधि है! जिससे यह प्रूफ होता है कि जिस काम के लिए OTP आ रहा है! वह काम आप ही कर रहे हैं और कोई दूसरा नहीं है। 

आसान शब्दों में यह एक ऐसा पासवर्ड है! जो कंप्यूटर या अन्य किसी भी डिवाइस पर एक निर्धारित समय के लिए ही मान्य होता है! तथा समय सीमा के समाप्त हो जाने के बाद आप इसका प्रयोग नहीं कर सकते हैं। 

यह मोबाइल पासवर्ड, फेसबुक या गूगल अकाउंट पासवर्ड से बिल्कुल अलग होता है इसलिए कभी भी आपके पासवर्ड की चोरी हो जाती है या किसी को आप का पासवर्ड पता चल जाता है तो भी बिना OTP के वह आपके अकाउंट को ओपन नहीं कर सकता क्योंकि OTP तो आप के रजिस्टर्ड मोबाइल या ईमेल आईडी में ही आएगा। 

OTP का यूज कहां किया जाता है

One time password का उपयोग ज्यादातर ऐसी जगहों में किया जाता है! जहां किसी दूसरे इंसान से आपकी निजी जानकारी को कोई खतरा हो सकता है! इसका सबसे अच्छा उदाहरण इंटरनेट बैंकिंग और ऑनलाइन ट्रांजैक्शन को लिया जा सकता है। 

जब भी आप दोनों में से किसी भी सुविधाओं का प्रयोग करना चाहेंगे तो आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर ही एक OTP आता है उस OTP को डालने के बाद ही आप उस सुविधा का लाभ ले सकते हैं। 

ऐसी चीजों का प्रयोग बढ़ने की वजह से इसमें OTP अनिवार्य कर दिया गया है जिससे आपका पैसा सुरक्षित रहे और उसका उपयोग सिर्फ और सिर्फ आप ही कर सके। 

व्हाट्सएप में भी लॉगिन करते समय मोबाइल में SMS के माध्यम से एक OTP भेजा जाता है! आजकल गूगल अकाउंट में भी टू स्टेप वेरीफिकेशन लागू कर दिया गया है! जिससे कि आपके गूगल खाते में आपके अलावा कोई दूसरा व्यक्ति Login या changes ना कर सके। 

इनके अलावा सभी ई-कॉमर्स वेबसाइट जैसे Mantra,ebay, amazon snapdeal, flipkart और डिजिटल वॉलेट प्रदान करने वाली कंपनियां जैसे phonepe,paytm Gpay इत्यादि OTP सुविधा का इस्तेमाल करते हैं जिससे कि सभी कस्टमर के ऑनलाइन अकाउंट को सुरक्षित रखा जा सके। 

OTP का यूज क्यों किया जाता है

तकनीकी क्षेत्र में दुनिया का विकास होने के साथ-साथ! इंटरनेट और कंप्यूटर का उपयोग कुछ लोग गलत कामों के लिए करने लगे हैं ऐसे गलत कामों को साइबर अपराध कहा जाता है ऐसे साइबर अपराधों को कम करने के लिए ही OTP का इस्तेमाल किया जाता है। 

ज्यादातर लोग जो किसी ऑनलाइन अकाउंट के लिए अपना मनचाहा पासवर्ड बनाते हैं! तो उसमें अपना नाम या डेट ऑफ बर्थ डाल देते हैं! या फिर कोई आसान सा पासवर्ड बना लेते हैं जो उन्हें आसानी से याद रह सके। 

लेकिन यह आसान सा पासवर्ड आपके ऑनलाइन अकाउंट के लिए खतरा बना होता है तथा आपका अकाउंट पूरी तरह से सुरक्षित नहीं रहता इसीलिए OTP की सहायता से ही इसे और भी सिक्योर सुरक्षित बनाया जाता है क्योंकि OTP आपके बनाए गए पासवर्ड से बिल्कुल अलग होता है और यह हर बार अलग-अलग नंबर में जनरेट होकर आता है। 

OTP कैसे /कहां से आता है

अब बात आती है कि यह OTP कहां से आते हैं और इन्हें कौन भेजता है! सभी डिवाइस के लिए कुछ authentication server होते हैं! जिनके अंतर्गत हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर होते हैं जो हमारे OTP को क्रिएट करने तथा हम तक पहुंचाने का काम करते हैं। 

यह भी जाने –

What is Web browser

What is Android

OTP के फायदे (Advantages of OTP)

1. security बढ़ाने का

जब हम OTP का प्रयोग करते हैं तो यह हमारी सुरक्षा की परत को बढ़ा देता है! क्योंकि यह सिर्फ रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर में ही जाता है अतः सिर्फ हमें पता चलता है इसकी सहायता से आपका ऑनलाइन अकाउंट और भी सिक्योर सुरक्षित हो जाता है क्योंकि आपका पासवर्ड किसी को भी मिल जाए लेकिन OTP के बिना वह लॉगिन नहीं कर सकता। 

2. OTP service को setup करना आसान

कुछ वेबसाइट में OTP को Two step verification भी कहा जाता है! और इसे सेट अप करना भी कॉफी आसान होता है! ज्यादातर ऐसी साइट्स जिनमें आपकी निजी जानकारी होती है उसमें पहले से ही यह Enable होता है और अगर नहीं भी है तो आप उसके सेटिंग में जाकर फोन को वेरीफाई करने के बाद Enable कर सकते हैं। 

3. उपयोगकर्ता का प्रमाण

OTP से इस बात का प्रमाण मिल जाता है! कि जिस किसी साइट में या अकाउंट में आप Login करना चाह रहे हैं! या फिर कोई ऑनलाइन ट्रांजैक्शन कर रहे हैं तो वह एक्टिविटी आप ही कर रहे हैं इसके अलावा जब भी OTP आता है तो उसमें लिखा हुआ रहता है कि इसे किसी के साथ भी शेयर ना करें। 

क्योंकि कई बार ऐसा भी होता है कि कोई हमें बिना बताए हमारे अकाउंट में लॉगिन करने की कोशिश करता है लेकिन यह जरूरी नहीं है कि उसके पास OTP हो और वह लोगिन करने में असफल हो जाएगा इसके साथ ही कभी-कभी अचानक Two step verification का ऑप्शन आ जाता है जब कोई invalid एक्टिविटी करता है ऐसे में OTP के जरिए सत्यापन करने के बाद ही आप अकाउंट का प्रयोग कर सकते हैं। 

4. Random Algorithm

सभी प्रकार के OTP सिस्टम random algorithm पर ही काम करते हैं जिसका मतलब होता है कि एक बार OTP आ गया और हमने लोगिन कर लिया लेकिन जब हम दूसरी बार लॉगइन करते हैं तो इस बार क्या OTP आएगा यह कोई भी नहीं जानता है इससे फायदा यह है कि अगर गलती से भी OTP किसी ने जान लिया तो दूसरी बार वह नहीं जान पाएगा।

5. हैकिंग से बचाव

यह OTP की सबसे अच्छी सुविधा होती है कि हमें हैकिंग से सुरक्षा मिल जाती है क्योंकि हैकर किसी भी तरह से आपका यूजर नेम और पासवर्ड निकाल लेता है इस काम के लिए उसके पास कई तरह के टूल्स होते हैं लेकिन OTP पहले से सेट नहीं की हुई रहती है OTP हर बार अलग-अलग ही आती है अतः वह आपकी OTP का पता नहीं लगा पता है। 

6. Call के दौरान OTP नहीं आता

आप लोगों ने कभी ना कभी गौर किया होगा! तो आपको पता होगा कि call के दौरान OTP नहीं आता है ऐसा इसलिए होता है! क्योंकि हो सकता है कि किसी ने कॉल के जरिए आपका मोबाइल हैक कर लिया हो और आपके पास जो भी मैसेज आता है! वह सीधे उसके पास चला जाए ऐसा भी हो सकता है इसीलिए काल के समय OTP नहीं आता है।

7. OTP सुविधा बिल्कुल Free 

आपको अपने किसी भी अकाउंट के लिए OTP की सुविधा बिल्कुल मुफ्त में मिलती है! इसके लिए आपको किसी भी प्रकार की अतिरिक्त शुल्क नहीं देना होता है इसीलिए इसका इस्तेमाल जरूर करें।

निष्कर्ष

हमने आपको OTP kya hai और OTP से जुड़ी सारी जानकारी बता दी है अब आपको जरूर समझ में आ गया होगा कि OTP kya hai और इसे प्रयोग करने से हमें क्या-क्या फायदे हो सकते हैं लेकिन यह सब कुछ जानने के बावजूद भी कुछ लोग spam calling massages के झांसे में आ जाते हैं जिससे उनका सारा पैसा अकाउंट से निकाल लिया जाता है। 

इसलिए अगर कोई भी इस तरह की कॉल या मैसेज आता है और बोले कि सिम बंद हो जाएगा या इस नंबर मे आपकी लॉटरी लगी है तो आप OTP बताइए तो तुरंत कुछ ना करें और अपने मोबाइल का OTP किसी को भी ना बताएं यह जानकारी आपको कैसी लगी यह हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं और इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें। 

 धन्यवाद!

प्रश्न और उत्तर 

  • OTP kya hai ? What is one time password?

    OTP एक सिक्योरिटी कोड होता है! जो अधिकतर 6 डिजिट का रहता है इसका इस्तेमाल 1 बार ही किया जा सकता है।

  • 6 अंकों का OTP नंबर क्या है?

    OTP एक सिक्योरिटी कोड होता है! जो अधिकतर 6 डिजिट का रहता है। इसका प्रयोग सिर्फ एक बार ही किया जा सकता है! इसके साथ ही OTP एक वेरीफिकेशन की विधि है।

  • OTP का full form क्या है ?

    OTP का full form One time password होता है।

यह भी जाने –

Computer kya hai in hindi | कम्प्यूटर की विशेषताएँ

Debit card and Credit card difference in hindi | ATM card kya hai

Solar panel in hindi | सोलर पैनल क्या है | सोलर पैनल कैसे काम करता है ?

Samgra Shiksha abhiyan: हिमाचल के 218 स्कूलों में बनेगी कंप्यूटर लैब, 1360 दिव्यांग बच्चों को मिलेगा लैपटॉप

Bluetooth kya hai | ब्लूटूथ कैसे कार्य करता है

ladli laxmi yojna mp प्रमाण पत्र डाउनलोड कैसे करें

mobile recharge kaise kare 2022 ? Online Mobile Recharge कैसे करें ?

Samagra id kya hai

PDF kya hai और PDF कैसे बनाते हैं

Share us friends

Leave a Comment

error: Content is protected !!