QR code kya hai | QR code कैसे बनाएं | QR code कैसे स्कैन करें पूरी जानकारी (2 मिनट में)

हेलो दोस्तों आज हम आपको बताएंगे कि QR code kya hai और यह कैसे काम करता है QR code  को कैसे स्कैन करें आपने QR code को कहीं ना कहीं अवश्य देखा होगा जो छोटे चौकोर बॉक्स जैसा होता है और इसमें कुछ अजीब से पैटर्न बना होता है code को जब हम scan करते हैं तब वेबसाइट के URL में redirect कर देता है इसी कारण से इसे बनाया गया है।

QR CODE kya hai

 

QR code का फुल फॉर्म Quick response code होता है और इसका उपयोग सालों से हो रहा है तो चलिए अब विस्तार से जानते हैं कि QR code kya hai और यह कैसे काम करता है यह जानने के लिए इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें।

QR code kya hai

QR code का full form Quick response code होता है! जो दिखने में चकोर होता है! बारकोड के तरह ही काम करता है! सबसे पहले जब किया गया था! यह देखने में traditional UPC barcode बिल्कुल अलग होता है! यह देखने में ज्यादा attractive होता है! और इसमें ज्यादा डाटा को स्टोर कर सकते हैं! और इसे बड़ी ही आसानी के साथ कैप्चर भी कर सकते हैं।

इसकी दूसरी परिभाषा के अनुसार यह machine readable labels होता है जिसको कंप्यूटर आसानी के साथ text के मुकाबले समझ सकता है। QR code का प्रयोग हर जगह किया जा रहा है जैसे कि किसी प्रोडक्ट को ट्रैक करने या फिर उसे identify करने में इसको बारकोड का अपग्रेड वर्जन कह सकते हैं यह ऐसी टेक्नोलॉजी है जोकि अपने आप तक सीमित नहीं है की इसका उपयोग warehouse मैं प्रोडक्ट को ट्रैक करने के लिए ही करें बल्कि इसका उपयोग बहुत ज्यादा बढ़ गया है इसका उपयोग advertisement, Billboard, business window यहां तक की इसका उपयोग कुछ वेबसाइट भी कर रही हैं।

QR code कैसे काम करता है 

अब आप थोड़ा बहुत यह जान गए होंगे कि! QR code kya hai जो लोग इंटरनेट से जुड़े हुए हैं! उन्हें इसके बारे में शायद पहले से ही पता होगा कि चौकोर आकार में बार कोड क्या है देखने में भले ही पुराना जैसे दिख रहा है लेकिन इसके बारे में बिजनेस करने वालों को जरूर पता होना चाहिए इसका प्रयोग सबसे पहले सुपर मार्केट के groceries मे चीजों को ट्रैक करने के लिए किया गया था लेकिन अब इसका प्रयोग हर छोटे-बड़े कंपनी अपने प्रोडक्ट को बेचने के लिए करते हैं साधारण व्यक्तियों की बात करें तो वह अपने स्मार्टफोन का उपयोग करके क्यूआर कोड की सहायता से जल्द ही कुछ एक्शन कर सकते हैं।

यह सफेद और काले कलर से बनी चौकोर डब्बा होता है! जिसे किसी भी पेपर में प्रिंट किया जा सकता है! और फोन के कैमरे में बड़ी ही आसानी के साथ कैप्चर कर सकते हैं! क्यूआर कोड को पहले स्केनर की सहायता से कैप्चर किया जाता था और इसके बाद वह ऐप उस कोड को वैल्युएबल इंफॉर्मेशन में बदल देता है जिससे कि हम बड़ी आसानी के साथ उसको समझ सकते हैं।

इन्हे भी जाने –

PAN card kaise banaye mobile se | घर बैठे 10 मिनट में फ्री में बनाए पैन कार्ड

Digilocker | Digilocker kya hai | डिजिलॉकर: अब डॉक्यूमेंट खो जाने की नहीं होगी चिंता

Voter card aadhar card link | कैसे लिंक करें आधार और वोटर आईडी, जानिए प्रोसेस 2 मिनट मे

UPI kya hai | UPl कैसे काम करता है पूरी जानकारी हिन्दी में

QR code और 1D UPC barcode मे क्या अंतर है

क्यूआर कोड देखने में चकोर डिब्बा की तरह दिखता है! और बारकोड खड़ी लाइन की तरह दिखता है! क्यूआर कोड को किसी भी तरह से स्कैन कर सकते हैं यानी कि वर्टिकल और होरीजेंटल दोनों तरफ से स्कैन कर सकते हैं जबकि बारकोड को केवल एक ही डायरेक्शन से स्कैन कर सकते हैं क्यूआर कोड में 7089 नंबर तक स्टोर कर सकते हैं जबकि 1D barcode मे सिर्फ 30 नंबर तक ही स्टोर कर सकते हैं इसमें वीडियो और बड़े फाइल को स्टोर कर सकते हैं जिसको बाद में फेसबुक ट्यूटर सोशल नेटवर्किंग में इस्तेमाल कर सकते हैं।

स्मार्टफोन से क्यूआर कोड कैसे स्कैन करें

अगर आपके पास स्मार्टफोन है तो आप इसका उपयोग करके क्यूआर कोड को स्कैन कर सकते हैं! इसके लिए आपको अपने फोन में बारकोड स्कैनर एप को डाउनलोड करना होगा! जैसे कि बारकोड स्कैनर, क्यूआर स्कैनर जिसकी सहायता से किसी भी की बारकोड को आसानी के साथ डिकोड कर सकते हैं और यह सारे एप्लीकेशन फ्री होते हैं इनमें कोई भी पैसा नहीं देना पड़ता है।

आपको इन एप्लीकेशन को इंस्टॉल करके अपने फोन के कैमरे के उपयोग से उस कोड को स्कैन करना पड़ता है! और वह automatically उस कोड को dicode कर लेता है! QR code को स्कैन करने का प्रोसेस स्टेप बाय स्टेप नीचे बताया गया है।

  1. सबसे पहले आप प्ले स्टोर में जाकर क्यूआर कोड, बारकोड स्कैनर को डाउनलोड करके इंस्टॉल कर ले।
  2. इसके बाद इसे ओपन करें जिससे कुछ परमिशन मांगेगा! सभी परमिशन को आपको Allow कर देना है ताकि अच्छे से काम कर सके।
  3. क्यूआर कोड अथवा बार कोड को स्कैन करने के लिए इस एप्लीकेशन को ओपन कर ले।
  4. इसे ओपन करते ही आपके फोन का बैक कैमरा ऑन हो जाएगा जिसे क्यूआर कोड अथवा बारकोड के सामने ले जाना होगा।
  5. इसके बाद कुछ ही सेकंड में यह ऐप ऑटोमेटिक कोड में छुपी हुई जानकारी को decode करके सामने स्क्रीन पर दिखा देगा।

QR code मे क्या स्टोर हो सकता है

इसे आसान शब्दों में कहें तो क्यूआर QR code image based high per text link जिसका उपयोग हम ऑफलाइन भी कर सकते हैं! इससे हम किसी भी URL को रिकॉर्ड कर सकते हैं! जिससे कि अगर कोई क्यूआर कोड को स्कैन करें तो वेबसाइट आसानी से खुल जाए।

अगर आप चाहते हैं कि कोई आपके फेसबुक पेज को लाइक करें! तब आप फेसबुक पेज के यूआरएल को उसकी बारकोड में दे सकते हैं! जिससे अगर कोई स्कैन करे तो वह रीडायरेक्ट होकर फेसबुक पेज ओपन हो जाए।

यदि आप कोई वीडियो को वायरल करना चाहते हैं तो उसके यूआरएल को क्यूआर कोड में स्टोर कर सकते हैं वैसे ही आप किसी के मोबाइल नंबर के साथ भी कर सकते हैं इसका इस्तेमाल करना असीमित होता है।

क्यूआर कोड का आविष्कार किसने किया

Toyota group  के denso wave जोकि subsidiary company ने सबसे पहले क्यूआर कोड का आविष्कार सन 1994 में किया था! कंपनी के parts को ट्रैक करने के लिए इसे पर्सनली डिजाइन किया गया था लेकिन अब इसका इस्तेमाल काफी ज्यादा बढ़ गया है इस कारण इसे कमर्शियल करना पड़ा

इन्हे भी पढे –

PDF kya hai और PDF कैसे बनाते हैं

E Aadhar download online । आधार कार्ड डाउनलोड कैसे करें 2022

google se video download kaise kare । google से video कैसे download करे

Paypal account kaise banaye और वेरीफाई कैसे करें पूरी जानकारी हिंदी में

Email ID kaise banaye ? मोबाइल में Email ID कैसे बनाए ?

क्यूआर कोड का इस्तेमाल कहां कहां कर सकते हैं

  • क्यूआर कोड को हम किसी स्पेसिफिक वेबसाइट के यूआरएल में रीडायरेक्ट कर सकते हैं।
  • इसका उपयोग हम डिस्काउंट कोड के रूप में भी कर सकते हैं।
  • इसका उपयोग मैसेज को शेयर करने में भी किया जा सकता है।
  • इसे बिजनेस कार्ड के रूप में भी उपयोग कर सकते हैं! जिसमें हमारी सारी जानकारी पहले से ही स्टोर होगी।
  • इससे हमारे नए लोकेशन को गूगल मैप लोकेशन के साथ लिंक कर सकते हैं।
  • इससे यूट्यूब वीडियो और चैनल को भी लिंक कर सकते हैं। जिससे वायरल होने के चांस बढ़ जाते हैं और इसकी मदद से नए प्रोडक्ट को प्रमोट भी कर सकते हैं।
  • इसे आप app के लिंक को भी जोड़ सकते हैं जिससे कि लोग ऐप का उपयोग कर सकें।
  • इसमें आप किसी वस्तु की जानकारी को भी ऐड कर सकते हैं जिससे कि जब वही स्कैन करे तो उसको सारी जानकारी प्राप्त हो सके।
  • इसको आप अपने व्यवसाय के कांटेक्ट पेज में भी ऐड कर सकते हैं! जिससे कि जब स्कैन करे तो आपके वेबसाइट की पूरी जानकारी को अपने फोन में सेव कर सके।
  • इसका इस्तेमाल हम मोबाइल में लॉग इन करने के लिए भी कर सकते हैं जिससे कि बार-बार पासवर्ड डालने की जरूरत ना पड़े।

क्यूआर कोड के बिजनेस में क्या फायदे हैं

यह बारकोड के मुकाबले बहुत ज्यादा फायदा होता है! इसका मुख्य फायदा यह है कि किसी भी इंफॉर्मेशन को बारकोड के मुकाबले सौगुना ज्यादा स्टोर कर सकते हैं

  • क्यूआर कोड को हम किसी भी तरीके से ही स्कैन कर सकते हैं जबकि यह बारकोड में संभव नहीं है।
  • यह marketing point of view से ज्यादा रोचक है जिससे कि कस्टमर को आसानी से engage कर सकता है जिससे कि कंपनी को बहुत ही कम खर्चे में अच्छी मार्केटिंग हो जाती है।
  • क्यूआर कोड रीडर को हम आसानी के साथ डाउनलोड करके इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • कस्टमर अपने स्मार्टफोन की मदद से किसी भी बिजनेस में आसानी से इंटर कर सकता है।
  • ऐसे बहुत से वेबसाइट हैं जो फ्री में क्यूआर कोड जनरेट करती हैं इसलिए कंपनी अपने जरूरत के हिसाब से ही अपने ऑप्शन चुनती है।

QR code के हानि 

QR code के लाभ होने के साथ-साथ इसके कुछ कमियां भी हैं! जैसे कि security problem को लेकर इसे बड़ी आसानी के साथ बदल सकते हैं और इसमें डेंजरस चीजों को डाल सकते हैं जैसे कि यदि कोई hacker चाहे तो क्यूआर कोड में अपने किसी malware URL को डाल सकता है और उसको वैसे ही जगह फिक्स कर देगा जहां पर ज्यादा ट्रैफिक आता हो इससे वह किसी के भी मोबाइल में घुसकर यूजर को खतरा पहुंचा सकता है।

क्यूआर कोड का मतलब क्या होता है?

क्यूआर कोड का मतलब त्वरित प्रतिक्रिया कोड होता है जिसका अर्थ है तुरंत काम करने वाला कोड जिसके लिए हमे इंतेजार नही करना पड़ता बस स्केन होते ही काम पूरा हो जाता है।

QR कोड कैसे काम करता है?

क्यूआर कोड को पहले अपने मोबाइल के स्केनर की सहायता से कैप्चर किया जाता है और इसके बाद वह ऐप उस कोड को वैल्युएबल इंफॉर्मेशन में बदल देता है जिससे कि हम बड़ी आसानी के साथ उसको समझ सकते हैं।

क्यू आर कोड का फुल फॉर्म क्या है?

QR code का फुल फॉर्म Quick response code होता है।

निष्कर्ष

आज हम हमने इस पोस्ट में QR code kya hai और क्यूआर कोड कैसे बनाएं! की पूरी जानकारी विस्तार से आसान शब्दों में बताया गया है! जोकि आपको अच्छी तरह से समझ में आ गया होगा आपको यह पोस्ट कैसा लगा यह कमेंट बॉक्स में हमें जरूर बताएं और अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें ऐसे ही जानकारी पाते रहने के लिए सबस्क्राइब करना न भूले क्यूकी हम यहा आप के लिए इसी तरह जानकारी उपलब्ध कराते रहते है। 

धन्यवाद!

इन्हे भी जाने-

Debit card and Credit card difference in hindi | ATM card kya hai

USB ka full form क्या है ? USB kya hai और कितने प्रकार के होते हैं

OTG kya hai ? OTG क्या होता है ? OTG cable कैसे काम करता है ?

mobile ka avishkar kisne kiya | मोबाइल का आविष्कार किसने और कब किया था

Share us friends

Leave a Comment

error: Content is protected !!